Arthgyani
होम > न्यूज > अडाणी इलेक्ट्रिसिटी

अडाणी इलेक्ट्रिसिटी और कतर निवेश प्राधिकरण का हुआ सौदा

अडाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई में 30 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को बिजली की आपूर्ति करती है।

दो बड़े उद्यमी हाथ मिलाने जा रहे हैं। कतर निवेश प्राधिकरण और अडाणी इलेक्ट्रिसिटी ने एक सौदा तय किया है। न्यूज़ एजेंसी से मिली जानकारी के अनुसार अडाणी इलेक्ट्रिसिटी ने अपने एक बयान में कहा है कि अडाणी ट्रांसमिशन लिमिटेड की अडाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड और कतर निवेश प्राधिकरण की एक अनुषंगी ने अडाणी इलेक्ट्रिसिटी की 25.1 प्रतिशत हिस्सेदारी के लिये बाध्यकारी करार पर हस्ताक्षर किये हैं।
उन्होंने ये भी बताया कि कतर निवेश प्राधिकरण ने विद्युत वितरण कंपनी अडाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड में 3,200 करोड़ रुपये में 25.1 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने का करार किया है।
अडाणी समूह के चेयरमैन गौतम अडाणी ने कहा कि कतर निवेश प्राधिकरण के साथ मिलकर उनकी कंपनी आपूर्ति की विश्वसनीयता और उपभोक्ताओं की संतुष्टि को बेहतर बनाने की दिशा में काम करेगी। गौरतलब है कि अडाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई में 30 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को बिजली की आपूर्ति करती है।

मुख्य बिंदु

  • कतर निवेश प्राधिकरण और अडाणी इलेक्ट्रिसिटी का हुआ सौदा
  • कतर ने अडाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई लिमिटेड में 3,200 करोड़ रुपये में 25.1 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने का करार किया है।
  • अडाणी इलेक्ट्रिसिटी मुंबई में 30 लाख से अधिक उपभोक्ताओं को बिजली की आपूर्ति करती है।
  • सौदे में बिजली में से 30 प्रतिशत से अधिक को 2023 तक सौर एवं पवन ऊर्जा स्रोतों को खरीदने पर सहमति हुई है।

कंपनी ने कहा, ‘‘अडाणी इलेक्ट्रिसिटी में कतर निवेश प्राधिकरण का निवेश लगभग 3,200 करोड़ रुपये का होगा। बयान में कहा गया, ‘‘सौदे के तहत अडाणी ट्रांसमिशन और कतर निवेश प्राधिकरण अडाणी इलेक्ट्रिसिटी द्वारा आपूर्ति की जाने वाली बिजली में से 30 प्रतिशत से अधिक को 2023 तक सौर एवं पवन ऊर्जा स्रोतों से खरीदने पर सहमत हुए हैं।