Arthgyani
होम > बाजार > जीडीपी ग्रोथ

आईसीआरए ने भारत की जीडीपी ग्रोथ अनुमान को घटाया

भारत की वृद्धि दर घटकर 4.7 फीसदी रहने का अनुमान

वैश्विक मंदी ने भारतीय अर्थव्यस्था को बुरी तरह प्रभावित किया है|मंदी का प्रभाव रोजगार से लेकर औद्योगिक उत्पादन में कमी तक हर जगह देखा जा रहा है|रही सही कसर लगातार बढ़ते राजकोषीय घाटे ने पूरी कर दी है|इन सभी परिस्थितियों को देखते हुए रेटिंग एजेंसी आईसीआरए ने भारत की जीडीपी ग्रोथ अनुमान को घटा दिया है|आईसीआरए ने वित्त वर्ष 2020 के दूसरी तिमाही में भारत की वृद्धि दर घटकर 4.7 फीसदी रहने का अनुमान व्यक्त किया है|

औद्योगिक उत्पादन के कमजोर होने से गिरी रेटिंग:

औद्योगिक उत्पादन में कमी से अर्थव्यवस्था की गिरावट का अनुमान लगाया जाता है|रेटिंग एजेंसी आईसीआरए ने इसी आधार पर  वित्त वर्ष 2020 के दूसरी तिमाही में भारत की वृद्धि दर घटकर 4.7 फीसदी रहने का अनुमान व्यक्त किया है| एजेंसी ने भारत की जीडीपी की वृद्धि दर में आगे और गिरावट की आशंका व्यक्त की है|गौरतलब है कि बीते दिनों औद्योगिक उत्पादन में गिरावट के आंकड़े  जारी होने के बाद से शेयर बाजार में भी गिरावट देखी जा रही है|गुरूवार को  कारोबारी दिवस के अंत  में सेंसेक्‍स 76.47 अंक लुढ़क कर 40 हजार 575 के स्‍तर पर बंद हुआ| जबकि निफ्टी की बात करें तो 30 अंक की गिरावट के साथ यह 11,968.40 अंक पर बंद हुआ|

घाटे में टेलीकॉम कंपनियां:

वोडाफोन-आईडिया का संकट गहराता जा रहा है|सरकार की ओर से स्पेक्ट्रम भुगतान में राहत की घोषणा के बावजूद भी कम्पनी के शेयरों में गिरावट जारी है|एजीआर भुगतान के आदेश के बाद से एयरटेल और वोडाफोन दोनों कंपनियाँ मुश्किल में हैं|गुरूवार को  वोडाफोन आइडिया के शेयर 6 फीसदी से अधिक गिरावट के साथ बंद हुए जबकि एयरटेल के शेयर में 2.50 फीसदी तक की फिसलन रही|विदित हो कि केंद्रीय  मंत्री रविशंकर प्रसाद के मुताबिक टेलीकॉम कंपनियों को एडजस्टेड ग्रॉस रेवेन्यू (एजीआर) मामले में पेनल्टी और ब्याज में छूट देने के प्रस्ताव पर सरकार फिलहाल कोई विचार नहीं कर रही|

विनिवेश कि खबर से गिरावट:

विनिवेश की खबरें आने के साथ  भारत पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड(बीपीसीएल) के शेयर में 5.66 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई |जबकि शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया भी शामिल है|यह फर्म 6.29 फीसदी तक लुढ़क गया ह‍ै|गुरूवार को  केंद्र सरकार ने बीपीसीएल और  शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया समेत पांच कंपनियों के विनिवेश की घोषणा कर दी है |इसके अलावा  टाटा स्‍टील, यस बैंक, ओएनजीसी, आईटीसी, टाटा मोटर्स, मारुति, एनटीपीसी, वेदांता, महिंद्रा, एक्‍सिस बैंक, इंडसइंड बैंक, हीरो मोटोकॉर्प, टेक महिंद्रा, सनफार्मा, रिलायंस जैसे शेयर भी लाल निशान पर बंद हुए|हालांकि निजी कंपनियों में एचयूएल, एलएंडटी, बजाज ऑटो, एसबीआईएन, एचडीएफसी बैंक, आईसीआईसीआई बैंक,टीसीएस के शेयरों में बढ़त बरकरार रही|