Arthgyani
होम > न्यूज > आनेवाला साल बैंकों के लिए बेहतरीन दिन लाएगा – रजनीश कुमार

आनेवाला साल बैंकों के लिए बेहतरीन दिन लाएगा – रजनीश कुमार

SBI चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा NPA के मामले में अधिकतर बैंक मार्च तक अच्छी स्थिति में होंगे।

शनिवार को नई दिल्ली में आयोजित FICCI के 92वें सालाना सम्मेलन में भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि गैर-निष्पादित संपत्ति (NPA) के मामले में अधिकतर बैंक मार्च तक अच्छी स्थिति में पहुँच जायेंगे और बैंकिंग प्रणाली में ऋण वितरण के लिये नकदी की कोई कमी नहीं है।

न्यूज़ एजेंसी भाषा से मिली ख़बरों के अनुसार उन्होंने कहा बैंकिंग प्रणाली में पूंजी की कोई कमी नहीं है बल्कि कॉरपोरेट पर्याप्त ऋण नहीं ले रहे हैं और अपनी क्षमता का अच्छे से उपयोग नहीं कर रहे है। बुनियादी संरचना तथा उपभोक्ता क्षेत्र में ऋण की मांग में कोई खास कमी नहीं आयी है, अत: इन क्षेत्रों में ऋण वितरण के अवसर उपलब्ध हैं। उन्होंने कहा, “31 मार्च तक अधिकांश बैंक एनपीए के लिहाज से अच्छी स्थिति में होंगे।” देश में लोन वितरण को बढ़ावा भी दिया जाएगा।

रेपो रेट में कटौती

रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) द्वारा रेपो दर (Repo Rate) घटाने का लाभ उपभोक्ताओं तक नहीं पहुंच पाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि बैंक संपत्ति और देनदारी में असंतुलन बनने के जोखिम को देखते हुए ब्याज दर में एक सीमा से अधिक कटौती नहीं कर सकते हैं।

स्पेक्ट्रम नीलामी के बारे राय

दूरसंचार कंपनियों को स्पेक्ट्रम की प्रस्तावित नीलामी के लिए लोन देने के बारे में उन्होंने कहा, ”हमारे लिए दूरसंचार कंपनियों को स्पेक्ट्रम नीलामी के लिये लोन देना पूरी तरह से असुरक्षित है। यह कागजों पर सुरक्षित है क्योंकि नीलामी सरकार करने वाली है, लेकिन व्यावहारिक तौर पर यह पूरी तरह से असुरक्षित है। “अत: ऐसी परिस्थितियों में बैंकों को दूरसंचार क्षेत्र को ऋण देने से पहले सावधानी से मूल्यांकन करना होगा, क्योंकि ऋण की किस्तों के भुगतान में चूक होने की आशंका काफी अधिक है।”