Arthgyani
होम > न्यूज > आपका फेवरेट बिस्कुट का बढ़ सकता है दाम

आपका फेवरेट बिस्कुट का बढ़ सकता है दाम

ब्रिटानिया और पारले ने की मूल्य वृद्धि की तैयारी

पिछली तिमाही में लाभ आने के बाद भी पारले और ब्रिटानिया अपने बिस्कुट के दाम बढ़ाने की पूरी तैयारी कर ली है| रिपोर्ट की माने तो Parle-G ब्रांड के बिस्कुट के लिए मशहूर पारले कंपनी 5 से 6 प्रतिशत तक की वृद्धि करने की तैयारी कर ली है| वहीं एक और बिस्कुट निर्माता कंपनी ब्रिटानिया  ने भी संकेत दिए हैं की वह अपने प्रोडक्ट में 3% तक की वृद्धि करेगी| 

अगले साल जनवरी-मार्च में होंगे मूल्य वृद्धि लागू 

हालांकि दोनों ही बिस्कुट कंपनियों ने मूल्य वृद्धि के ऊपर कोई फैसला नहीं किया है| CNBC-18 और जनसत्ता की रिपोर्ट के मुताबिक अनुमान है की मूल्य वृद्धि का अंतिम निर्णय बिस्कुट बनाने में प्रयुक्त होने वाली वस्तुओं जैसे मैदा, आटा, तेल, चीनी आदि की बढ़ी हुई कीमतों के आधार पर किया जाएगा| अगर अपुष्ट ख़बरों की माने तो यह मूल्य वृद्धि अगले वर्ष जनवरी से मार्च के मध्य लागू हो जाएंगे| 

पैकेट के साइज भी किया जा सकता है छोटा 

मूल्य को एकरूप रखने ने लिए कुछ ब्रांड्स के मूल्य तो पूर्व वाले ही रहेंगे मगर उसके वजन और पैकेट के साइज में कटौती की जा सकती है| पारले अपने प्रीमियम प्रोडक्ट के मूल्य में भी मामूली वृद्धि करने के संकेत दिए हैं| विदित हो की पारले के स्टैण्डर्ड प्रोडक्ट Parle-G, मेरी आदि है वही प्रीमियम प्रोडक्ट में बर्बन, हाईड एंड सीक, मिलानो आदि हैं|ज्ञात हो की पारले हर साल 10 हजार करोड़ रुपये के बिस्किट की बिक्री करती है।

फाइनेंसियल एक्सप्रेस के साथ इंटरव्यू के दौरान पारले प्रोडक्ट्स के सीनियर कैटेगरी हेड मयंक शाह ने कहा की बिस्कुट बनाने वाली कंपनियां GST दर के अधिक होने के कारण लागत से तालमेल बैठाने का प्रयास कर रही है| 

इससे पूर्व कुछ समय पूर्व आर्थिक सुस्ती का हवाला देते हुए पारले और ब्रिटानिया दोनों कंपनियों ने क्रमशः कर्मचरियों की छंटनी और मूल्य में वृद्धि की बात कही थी मगर जब उनके तिमाही की रिपोर्ट आई तो दोनों ही कंपनियों ने प्रॉफिट में अच्छी वृद्धि दर्ज की थी| इसी बीच सरकार द्वारा कॉर्पोरेट टैक्स में कटौती से भी कंपनीयों को लाभ हुआ होगा| इसके बाद भी इन दोनों कंपनियों द्वारा मूल्य वृद्धि की सम्भावना आश्चर्यचकित करती है क्योंकि इनके ज्यादातर प्रोडक्ट की पहुच आम जनमानस तक है और सस्ते होने की वजह से इनकी खपत भी बहुत है|