Arthgyani
होम > योजना > आयुष्मान भारत योजना – विशेष सुविधाएं (Ayushman Bharat Yojana Hindi)

आयुष्मान भारत योजना – विशेष सुविधाएं (Ayushman Bharat Yojana Hindi)

इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं की फ्री में देखभाल की जायेगी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 14 अप्रैल 2018 की बाबा साहब भीमराव अम्बेडकर के जन्म दिवस पर आयुष्मान भारत योजना (Ayushman Bharat Yojana) का शुभारंभ किया गया था। प्रधानमंत्री ने इस योजना की शुरुआत छत्तीसगढ़ क बीजापुर जिले से शुरुआत की थी। आयुष्मान भारत योजना का मकसद है गरीब परिवारों को स्वास्थ्य संबंधी सहायता करना।
जो गरीब परिवारों को बिमारी का इलाज करवाने में असमर्थ हैं उनके लिए इस योजना की शुरुआत की गई है।  इस योजना का उद्येश्य 10 करोड़ गरीब परिवारों को स्वास्थ साधन मुहैया कराना है। आयुष्मान भारत योजना के तहत गरीब परिवारों को अस्पतालों का बिल चुकाने में रहत मिलेगी।
इस योजना के तहत आने वाले परिवारों को इसका भरपूर लाभ मिलेगा उनको दवाओं का और अस्पताल में भर्ती होने पर कोई खर्च नहीं करना पड़ेगा। अब तक इस योजना का लाभ लगभग 50 करोड़ लोग उठा चुके हैं। सरकार का अब अगला कदम ये है बाकी को जो लोग इस योजना से अनजान उन लोगों को गरीब परिवारों को इस योजना के साथ जोड़ कर उनको भी ये सुविधा मुहैया कराई जायेंगी। 

आयुष्मान भारत योजना के तहत इलाज होगा मुफ्त 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई गई आयुष्मान भारत योजना के तहत किसी भी अस्पताल में इलाज बिना पैसों के किया जाएगा। जो भी परिवार इस योजना के तहत आता है और उस परिवार में कोई बीमार हो जाता है और वो परिवार इलाज करवाने में असमर्थ है। उसका सारा खर्च सरकार उठाएगी। उस परिवार को अस्पताल में या दवाइयों का कोई पैसा नहीं देना पड़ेगा।

आयुष्मान योजना का लक्ष्य गरीब परिवारों को स्वस्थ बनाना है। गरीब परिवारों में बिमारी के चलते और बिना पैसों के सही समय पर इलाज न होने पर होने वाली मौत को रोकना और उनको अच्छी दवा अच्छा इलाज उपलब्ध करवाना है। इस योजना के तहत गांव और शहर के लोग आते हैं। ये योजना सिर्फ गांव के लिए नहीं चलाई गई है। इस योजना का उद्येश्य गरीब परिवारों को सहयता प्रदान करना है।

गर्भवती महिलाओं और बुजुर्गों के लिए विशेष सुविधाएं 

इस योजना के तहत गर्भवती महिलाओं की फ्री में देखभाल की जायेगी, बच्चा पैदा होने पर माँ और शिशु की देखभाल की जायेगी। माँ और शिशु को स्वस्थ रखने के लिए माँ को पौष्टिक आहार दिया जाएगा। संक्रामक रोगों का फ्री इलाज किया जाएगा। मानसिक बिमारी का इलाज किया जाएगा। ख़ास कर बुजुर्गों का विशेष ख्याल रखा जाएगा।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई गई इस के तहत शुरूआती 200 दिनों में 20.8 लाख से ज्यादा गरीब परिवारों को लाभ मिला था। इस योजना के तहत स्वास्थ्य बिमा का लाभ उठाने वाले लोगों की संख्या 20 पार कर गई है। अब तक इस योजना के तहत ई-कार्ड 3.07 करोड़ लोगों को जारी किया है।

ई-कार्ड द्वारा हो जायेगी अस्पतालों में पेमेंट 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा चलाई गई इस योजना का उदेश्य गरीब परिवारों को 5 लाख रूपये का स्वास्थ्य बीमा देना है। ताकि गरीब परिवारों को किसी प्रकार की मुसीबत का सामना न करना पड़े। कांग्रेस सरकार द्वारा चलाई गई राष्ट्रीय स्वास्थ्य योजना को भी आयुष्मान भारत योजना में मिला दिया गया है। इस योजना के तहत मोदी सरकार ने औरतों, बच्चों और बुड्ढों का विशेष ख्याल रखा है।

इस योजना में पंजीकरण करवाने के लिए कोई समय सीमा और कोई आयु का प्रावधान नहीं है। इस योजना के साथ किसी भी उम्र के लोग जुड़ सकते हैं। इस योजना के साथ जुड़ने के लिए BPL  कार्ड होना जरूरी है। तभी आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना के तहत अस्पतालों में इन गरीब परिवारों को किसी प्रकार का पैसा चुकाने के लिए कोई मसक्कत नहीं करनी पड़ेगी ई- कार्ड के द्वारा हो जायेगी पेमेंट।