Arthgyani
होम > टैक्स (कर) > ईपीएस- कर्मचारी पेंशन योजना

ईपीएस के तहत पेंशनभोगियों की पेंशन 7,500 रुपये बढ़ाने की मांग

पेंशनभोगी एक नवंबर से 10 नवंबर तक गांव से लेकर राज्य स्तर पर आंदोलन करेंगें

राष्ट्रीय संघर्ष समिति (एनएससी) ने कर्मचारी पेंशन योजना (ईपीएस) के तहत आने वाले कर्मचारीयों की पेंशन 7,500 रुपये मासिक बढ़ाने की मांग की है| एजेंसी की खबर के अनुसार, पेंशन बढ़ाने की मांग को लेकर एनएसी ने पूरे देश में आंदोलन करने का निर्णय किया है। पेंशनभोगी एक नवंबर से 10 नवंबर तक गांव से लेकर राज्य स्तर पर आंदोलन करेंगें| संगठन में शामिल पेंशनभोगी दिल्ली में अगले महीने सात दिसंबर से ‘रास्ता रोको अभियान’ चलाएंगे। एनएसी के राष्ट्रीय संयोजक और अध्यक्ष अशोक राउत ने बताया कि, तीस – तीस साल काम करने और ईपीएस आधारित पेंशन मत में निरंतर योगदान करने के बाद भी कर्मचारियों को मासिक पेंशन 2,500 रुपये मिल रही है| जिस वजह से कर्मचारियों के परिवार सदस्यों का गुजर-बसर करना मुश्किल हो रहा है|

राष्ट्रीय संघर्ष समिति संगठन ने कर्मचारीयों की पेंशन बढ़ाने के साथ महंगाई भत्ता देने, कर्मचारियों के पति / पत्नी को मुफ्त चिकित्सा सुविधा देने समेत अन्य मांग की है| इसके अलावा संगठन ने पेंशन के बारे में उच्चतम न्यायालय के फैसले को लागू करने तथा ईपीएस 95 के दायरे में नहीं आने वाले सेवानिवृत्त कर्मचारियों को भी 5,000 रुपये मासिक पेंशन देने की मांग की है।

विदित हो, EPFO (Employee Provident Fund Organization) एक ऐसी संस्था है, जिसे EPFO Act 1952, कर्मचारी भविष्य निधि अध्यादेश के माध्यम से स्थापित किया गया| ईपीएफओ को भारत सरकार द्वारा केंद्रीय बोर्ड ऑफ ट्रस्टी (सीबीटी) की सहायता के लिए बनाया गया है| ईपीएफओ को लाभार्थियो और वित्तीय लेनदेन पर भारत में सबसे बड़े सामाजिक सुरक्षा संगठनो में से एक है|