Arthgyani
होम > न्यूज > वित्त समाचार > एक्सिस-बैंक

एक्सिस बैंक के ग्रॉस और नेट एनपीए में हुआ मुनाफा

निजी बैंक को चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 112.08 करोड़ रुपये का नुकसान भी हुआ|

बता दें, एक्सिस बैंक के ग्रॉस और नेट एनपीए में कुछ मुनाफा देखने को मिला। इस वर्ष 4,983 करोड़ रुपये के नए एनपीए हुए जबकि पिछले की तिमाही में 4,798 करोड़ रुपये के नए एनपीए थे। पीटीआई के अनुसार, बैंक को एक साल पहले इसी तिमाही में 789.61 करोड़ रुपये का मुनाफा हुआ था। लेकिन वहीं निजी बैंक को चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही में 112.08 करोड़ रुपये का नुकसान भी हुआ।

हालांकि बैंक के प्रोवेजनिंग में सुधार हुआ है। बैंक का नेट एनपीए 11,037 करोड़ से बढ़कर 11,138 करोड़ रुपये रहा है। वर्ष की दूसरी तिमाही में ग्रॉस एनपीए 29,405 करोड़ रुपये था जो कि बढ़कर 29,071 करोड़ रुपये रह गया| एक्सिस बैंक की प्रोविजनिंग तिमाही के आधार पर 3,814.6 करोड़ रुपये से घटकर 3,518.4 करोड़ रुपये पर आ गई। वहीं एक साल पहले की समान समयावधि में प्रोविजनिंग 2,927.4 करोड़ रुपये रही। इसके आधार पर बैंक की प्रोविजनिंग कवरेज अनुपात 78 फीसद से बढ़कर 79 फीसद रही है।

विदित हो, एक्सिस बैंक  Axis बैंक देगा 6.70 फीसदी का ब्याज द्वारा निर्धारित ब्याज से होने वाली आय में 16.6 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है, यह बढ़ोतरी 6102 करोड़ रुपये हो गया है। पिछले साल की दूसरी तिमाही में एक्सिस बैंक की ब्याज आय 5232.1 करोड़ रुपये थी। संपत्ति गुणवत्ता के मामले में बैंक की कर्ज में फंसी राशि एनपीए सितंबर 2019 में घटकर 5.03 फीसद रह गया। वहीं एक साल पहले इसी अवधि में यह राशि 5.96 फीसदी था। एनपीए 1.99 फीसदी है जो कि एक साल पहले इसी अवधि में 2.54 फीसदी था।