Arthgyani
होम > न्यूज > एस्ट्रल पॉली टेक्निक सीपीवीसी पाइप

एस्ट्रल पॉली टेक्निक -10 साल में 10,000 फीसदी की छलांग

विश्लेषकों का मानना है कि यह शेयर अब भी 20 फीसदी तेजी दर्ज कर सकता है।

आज के दौर की पाइप बाजार की नंबर वन कंपनी सीपीवीसी पाइप एक समय में माइक्रोकैप (बहुत छोटी) श्रेणी में आती थी। हम बात कर रहे हैं सीपीवीसी पाइप निर्माता कंपनी एस्ट्रल पॉली टेक्निक की। आज यह सीपीवीसी पाइप बाजार की अव्वल कंपनी है। बीते 10 साल में इस शेयर ने 10,000 फीसदी की छलांग लगाई है। इस दौरान कंपनी का रेवेन्यू और मुनाफा 13 से 14 गुना तक बढ़ा है।

विश्लेषकों को अब भी इस शेयर में दम दिख रहा है

बावजूद इसके कई विश्लेषकों को अब भी इस शेयर में दम दिख रहा है। उनका मानना है कि यह शेयर अब भी 20 फीसदी तेजी दर्ज कर सकता है। ब्रोकरेज का भी मानना है कि वित्त वर्ष 2018-19 से वित्त वर्ष 2020-21 तक कंपनी 30 फीसदी की दर से रेवेन्यू ग्रोथ दर्ज कर सकती है। इस दौरान कंपनी का मार्जिन 100 बेसिस अंक की दर से बढ़ सकता है।

इस कंपनी में विदेशी निवेशकों की हिस्सेदारी 20.1 फीसदी

सितंबर तिमाही के अंत तक इस कंपनी में विदेशी निवेशकों की हिस्सेदारी 20.1 फीसदी थी, जबकि घरेलू म्यूचूअल फंडों की कंपनी में 7.5 फीसदी हिस्सेदारी थी। यह मार्च 2015 के बाद सबसे ज्यादा हिस्सेदारी है। यही कारण है कि इस कंपनी में संस्थागत निवेशकों की दिलचस्पी लगातार बनी हुई है।

कीमतों में 5 फीसदी और अगस्त में 3 फीसदी का इजाफा

कंपनी ने सितंबर में कीमतों में 5 फीसदी और अगस्त में 3 फीसदी का इजाफा किया है। दरअसल चीन और कोरिया से आने वाले सीपीवीसी पाइपों पर एंटी डंपिंग ड्यूटी बढ़ाई गई है। इससे भारत में आने वाले 40 फीसदी सीपीवीसी पाइप की सप्लाई प्रभावित हुई है। विश्लेषकों का मानना है कि कीमतों में वृद्धि का असर दिसंबर तिमाही के नतीजों पर देखने को मिल सकता है। हालांकि, कुछ सेगमेंट में नरमी और पीवीसी पाइपों की कीमतों में गिरावट इस शेयर की तेजी पर लगाम लगा सकते हैं।