Arthgyani
होम > बाजार > ऑटो सेक्टर

ऑटो सेक्टर: मारुति सुजुकी के सेल्स में 25% गिरावट दर्ज

वित्त वर्ष में पहली दो तिमाही के तहत मारुती सुजुकी की बिक्री में 25% की गिरावट

ऑटो सेक्टर में काफी समय से मंदी का दौर चल रहा है| उसी बीच त्योहारी सीजन में कंपनियों ने खरीदी पर भारी डिस्काउंट की कई स्कीमों को लागू किया था| जिससे अच्छी बिक्री की भी हुई, जिससे ऑटो शेयरों को अच्छी रफ्तार मिली| लेकिन बिक्री की यह उम्मीद बरकार नहीं रहेगी| बीते पांच में से चार सत्रों में इंडेक्स लाल निशान के साथ बंद हुआ| बीते एक महीने में बीएसई ऑटो इंडेक्स 13 फीसदी दर्ज हुआ है| मंगलवार को भी इंडेक्स 0.35 फीसदी तक डाउन गया|

बता दें, वित्त वर्ष में पहली दो तिमाही के तहत मारुती सुजुकी की बिक्री में में 25% की गिरावट आई, जिससे सुजुकी का ग्लोबल सेल्स 17% डाउन गया। कंपनी ने बताया कि अक्टूबर में त्योहारी सीजन में रिकवरी के बावजूद पूरे वित्त वर्ष में वॉल्यूम में 13.2 प्रतिशत की गिरावट दर्ज हुई|

मारुती सुजुकी के मुनाफे में अभाव

सुजुकी ने जून तिमाही के अनुमान से वित्त वर्ष 2020 में अपनी आमदनी, ऑपरेटिंग इनकम और मुनाफे के अनुमान में भी क्रमश: 10.3, 39.4 और 30 प्रतिशत की कटौती हुई है। सुजुकी मोटर कॉर्पोरेशन को इस वित्त वर्ष में 28.4 लाख ऑटोमोबाइल और 17.7 लाख मोटरसाइकिल की बिक्री का अनुमान है, जो उसके पिछले अनुमान से क्रमश: 14.7 और 3 प्रतिशत कम है।

विश्लेषकों का कहना है कि, नवंबर और दिसंबर के वॉल्यूम आंकड़ों पर नजर रखी जाएगी| इससे पता चलेगा कि बिक्री में तेजी का रुख जारी रहता है या नहीं| BS-VI मानकों का पालन सेक्टर के लिए सबसे बड़ी चुनौती है|ऑटो सेक्टर को वित्त वर्ष 2019-20 में BS-IV की पूरी इंवेंट्री खाली करनी होगी| वित्त वर्ष 2020-21 से BS-VI लॉन्च होगा|कई वाहनों की कीमतों में मुनाफा होगा| डीजल वाहनों की मांग कम हो सकती है| जिसका असर पेट्रोल वाहनों पर भी पड़ सकता है|