Arthgyani
होम > न्यूज > करॉना वाइरस के चलते टूरिज्म को हो सकता है 3500 करोड़ का नुकसान

करॉना वाइरस के चलते टूरिज्म को हो सकता है 3500 करोड़ का नुकसान

करॉना के कारण चीन से आने वाले टूरिस्ट टिकट कैंसिल करा रहे हैं

कोरोना वायरस का बुरा प्रभाव अन्य क्षेत्रों पर भी पड़ने लगा है। कोरोना वायरस का ज्यादा असर टूरिज्म सेक्टर को पड़ा है  टूरिज्म को हजारों करोड़ का नुकसान हुआ है। रॉयटर्स में छपी रिपोर्ट के मुताबिक, भारतीय टूर ऑपरेटर्स को इससे करीब 500 मिलियन डॉलर (3500 करोड़ रुपये) का नुकसान हो सकता है।

अगर पूरे साल इस बिमारी का प्रकोप बना रहा तो टूर ऑपरेटर्स का नुकसान 2000 मिलियन डॉलर (14000 करोड़ रुपये) तक हो सकता है। चीन में अब तक इससे 800 के करीब लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 34 हजार से ज्यादा लोग इस बिमारी की चपेट मे हैं।

करॉना के कारण चीन और अन्य देशों से आने वाले टूरिस्ट टिकट कैंसिल करा रहे हैं, जिससे टूरिज्म और होटल इंडस्ट्री को भारी नुकसान हो रहा है। चीन और हॉन्ग कॉन्ग के लिए एयर इंडिया ने सभी फ्लाइट अगले आदेश तक कैंसिल कर दी है। इंडिगो ने 20 फरवरी तक फ्लाइट कैंसिल कर दी है।

भारतीय टूरिज्म ने सैलानियों पर लगाईं रोक

भारत सरकार ने भी चीन से आने वाले यात्रियों पर रोक लगा दी है। 15 जनवरी, 2020 या इसके बाद जो भी विदेशी चीन जा चुके हैं, उन्हें भारत में प्रवेश नहीं होने दिया जायेगा। चीन से आने वाले यात्रियों के लिए हवाई, सड़क या समुद्री रास्ते के जरिए भारत मे प्रवेश करने की अनुमति नहीं है। इसमें नेपाल, भूटान, बांग्लादेश और म्यांमार की जमीनी बॉर्डर भी शामिल हैं।

इंडियन असोसिएशन ऑफ टूर ऑपरेटर्स के वाइस प्रेसिडेंट ईएम नजीब ने कहा कि विदेशी पर्यटकों के साथ-साथ डोमेस्टिक पर्यटक भी दक्षिण भारत के लिए बुकिंग कैंसिल करा रहे हैं। केरल में तीन मरीज करॉना से संक्रमित बताए जा रहे हैं, जिसके कारण पर्यटक केरल और दक्षिण के अन्य राज्यों के लिए बुकिंग कैंसिल करा रहे हैं।

2018 में चीन से करीब 2.8 लाख पर्यटक भारत घूमने आए थे। टॉप-10 खर्च करने वाले  देशों में चीन का भी नाम दर्ज था। टूर ऑपरेटर्स का कहना है कि जनवरी और फरवरी में करीब 50 हजार चाइनीज टूरिस्ट आने वाले थे, लेकिन सभी बुकिंग कैंसिल कर दी गई है। बता दें कि भारत हर साल विदेशी पर्यटकों से 30 अरब डॉलर (2.1 लाख करोड़ रुपये) कमाता है।