Arthgyani
होम > म्यूच्यूअल फंड > म्युचुअल फंड

जानीये ओपन एंडेड फंड क्या है?

अधिकांश म्युचुअल फंड योजनाएं ओपन एंडेड होती हैं

म्युचुअल फंड निवेशक को  निवेश आधारित विविधता प्रदान करते हैं| इस विविधता के अंतर्गत फंड से जुडी विविधता एवं संग्रहित सामूहिक धनराशि की निवेश के आधार पर विविधता|म्युचुअल फंड की प्रकृति के आधार पर विविधता की बात करें तो ये मुख्यतः दो प्रकार की होती है|ओपन एंडेड फंड एवं क्लोज एंडेड फंड|निवेशक के मन में कई बार ये प्रश्न उठता है|क्या है ओपन एंडेड म्युचुअल फंड ?आज जानते ओपन एंडेड फंड के विषय में हर महत्वपूर्ण जानकारी|

 क्या है ओपन एंडेड म्युचुअल फंड ?

आसान शब्दों में कहें तो वो फंड जिसमें निवेशक को कभी भी यूनिट्स खरीदने एवं बेचने की आजादी होती है,ओपन एंडेड म्युचुअल फंड कहलाते हैं| इन फंड्स में जब चाहे तब निवेश किया जा सकता है| निवेशक कभी भी इन फंड्स से बाहर निकल सकते हैं| इन फंड्स का नेट एसेट वैल्यू (NAV) रोजाना तय होता है|इसी रेट के आधार पर फंड की खरीद-बिक्री होती है|प्रकृति के आधार पर देखें तो अधिकांश म्युचुअल फंड योजनाएं ओपन एंडेड होती हैं|

Open Ended Mutual Fund के फायदे:

आसान विक्रय (Liquidity) : इन फंड्स की Liquidity सरल होती है|आप आसानी से वर्तमान एनएवी के आधार पर बेचकर अपनी पूँजी प्राप्त कर सकते है |

समय सीमा  : इन फंड्स को खरीदने व बेचने पर कोई भी समय आधारित बाध्यता नहीं होती है|

SIP से  निवेश : इस म्युचुअल फंड में निवेश के लिए आपको बड़ी पूँजी की जरूरत नहीं होती|आप अपनी बचत पैसों को एसआईपी के माध्यम से निवेश कर सकते हैं|

प्रदर्शन का पता: ओपन एंडेड फंड का पुराना प्रदर्शन जानना आसान होता है|इस प्रदर्शन के आधार पर निवेशक अपनी निवेश योजना बना सकते हैं|

सावधानियां:

शेयर बाजार में निवेश करने वाला कोई भी फंड बाजार के उतार चढाव से प्रभावित होता है|म्युचुअल फंड कि इक्विटी आधारित योजना में निवेश करने वाले हर निवेशक को यह ध्यान अवश्य रखना चाहिए|हालांकि निवेश की लिक्विडिटी से लगायत रिटर्न तक सभी परिकल्पनाओं में ओपन एंडेड म्युचुअल फंड को सबसे बेहतर माना जाता है|