Arthgyani
होम > म्यूच्यूअल फंड > जानीये क्यों उपयोगी है SIP?

जानीये क्यों उपयोगी है SIP?

SIP ने आम निवेशक के म्युचुअल फंड में निवेश को आसान बना दिया है

सिस्टमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) म्युचुअल फंड में एक लोकप्रिय निवेश विकल्प बन चुका है|amfi की रिपोर्ट के अनुसार साल दर साल निवेशक एसआईपी को वरीयता दे रहे हैं| SIP ने आम निवेशक के म्युचुअल फंड में निवेश को आसान बना दिया है| निवेशक एसआईपी के माध्यम से बेहद कम पैसों से म्युचुअल फंड में निवेश कर सकते हैं| निवेशक को सुविधा प्रदान करने के लिए एसआईपी में बहुत से उपयोगी विकल्पों का समावेश किया गया है| आइये जानते हैं एसआईपी से जुड़ी कुछ विशेष बातें|

एसआईपी रोकने का विकल्प:

बहुत सी म्युचुअल फंड कंपनियां निवेशकों को  SIP पॉज(रोकने) का विकल्प भी देती हैं| जिसका अर्थ है निवेशक पूर्व आवेदन करके कुछ समय के लिए अपना एसआईपी निवेश रोक सकते हैं| निवेशकों को अपने लिखित आवेदन में यह जानकारी देनी पड़ती है कि वो एक महीने या 3 महीने के लिए एसआईपी रोकना चाह रहे हैं|ये एसआईपी का बेहद उपयोगी विकल्प है जो उसे और लोकप्रिय बना देता है|

निवेश राशि परिवर्तित भी हो सकती है:

दरअसल एसआईपी के अंतर्गत एक निर्धारित निवेश राशि जमा करने का प्रावधान है|ये राशि निवेशक अपने अनुसार तय करते हैं| भविष्य कि परिस्थितियों को देखते हुए अपनी आर्थिक दशाओं के अनुसार एसआईपी में निवेशक को बदलाव का विकल्प भी मिलता है|अर्थात निवेशक अपनी जरूरत के हिसाब से अपने SIP के ​निवेश को घटा या बढ़ा सकते हैं| बहुत सारी म्युचुअल फंड कंपनियां SIP में बदलाव करने का विकल्प देती हैं| इसके लिए भी निवेशक को अपने नजदीकी AMC कार्यालय में आवेदन जमा करना होगा| निवेशक इस आवेदन में पहले की  निर्धारित निवेश राशि और नयी निवेश राशि के बारे में बता सकते हैं|

रद्द करने का भी है विकल्प:

SIP में निवेशक को निवेश रद्द करने का भी विकल्प मिलता है| निवेशक इस संबंध में लिखित आवेदन कर सकते हैं|यह आवेदन नजदीकी  AMC में जमा किया जा सकता है| निवेशक को इस आवेदन में निवेश रद्द करने के कारण स्पष्ट करने होंगे|इसके अलावा आपने जिस रजिस्टर्ड बैंक खाते से ऑटो डेबिट का विकल्प दे रखा है, उस खाते में पैसे डालना रोक दें| पर्याप्त पैसा न होने पर तीन से चार महीनों के बाद म्युचुअल फंड कंपनी स्वयं ही आपकी SIP रोक देगी| ध्यान रहे कि एसआईपी सम्बंधित किसी भी बदलाव के लिए आपको अपने म्युचुअल फंड हाउस को 30 दिन पहले आवेदन करना होगा|