Arthgyani
होम > म्यूच्यूअल फंड > जानीये क्लोज एंडेड फंड्स के फायदे और नुकसान

जानीये क्लोज एंडेड फंड्स के फायदे और नुकसान

ये निश्चित बाध्यताओं पर आधारित म्युचुअल फंड हैं

म्युचुअल फंड  में निवेश करते समय कई बार आपको ओपन एंडेड फंड (Open Ended Funds) और क्लोज़्ड एंडेड फंड (Closed Ended Funds) जैसे शब्द सुनने में आते हैं|ये दोनों ही स्कीम म्युचुअल फंड कि निवेश योजनाओं के अंतर्गत आती हैं|इनमे आप अपनी ज़रूरत के हिसाब से निवेश करके अपने वित्तीय लक्ष्य सुरक्षित कर सकते हैं|इन लक्ष्यों को प्राप्त करने से पहले आपको ये समझना होगा ये फंड्स क्या है?आज हम जानकारी देंगे क्लोज़्ड एंडेड फंड्स क्या हैं,और इनमें अपने टारगेट के हिसाब से कैसे निवेश किया जाता है?इसके साथ ही साथ इससे जुड़े हानि और लाभ को जानना भी जरूरी है|आइये जानते हैं क्या हैं क्लोज़्ड एंडेड फंड्स ?

क्या हैं क्लोज़्ड एंडेड फंड्स (Closed Ended Funds) ?

जैसा की नाम से ही स्पष्ट है कि ये निश्चित बाध्यताओं पर आधारित म्युचुअल फंड हैं|ये फंड्स न्यू फंड ऑफर (NFO) के जरिये बाजार में लाए जाते हैं| इन म्स्कीयुचुअल फंड योजनाओं  में निवेश की निश्चित अवधि तय होती है|जो पूरी होने से पहले इन फंड्स को नहीं बेचा जा सकता|यूनिट्स स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट की जाती हैं और एक्सचेंज पर ही इन फंड्स को बेचा जा सकता है|इस फंड की यूनिट की कीमत NAV से कम-ज्यादा हो सकती है|क्लोज्ड एंडेड फंड्स में एकमुश्त पैसा निवेश किया जाता है|ये फंड्स मार्केट में उतार-चढ़ाव के दौरान निवेश बनाए रखते हैं| इनकी निवेश योजना पर बाजार के उतार चढाव का असर नहीं होता है,क्योंकि इनके फंड मैनेजर का निवेश को लेकर नजरिया साफ होता है|

क्लोज्ड एंडेड फंड्स से लाभ:

म्युचुअल फंड की इस योजना में निवेश से पूर्व इसके लाभ को समझना जरूरी होता है|क्लोज्ड एंडेड फंड के लाभ निम्नलिखित हैं|

  1.  मार्केट में उतार-चढ़ाव से प्रभावित नहीं होते हैं|
  2. लंबे निवेश के लिए क्लोज्ड एंडेड फंड्स बेहतर होते हैं|
  3. इसमें  मैच्योरिटी तक निवेश के कारण कम्पाऊंडिंग रिटर्न का लाभ भी मिलता है|
  4. ये फंड्स फिक्स  मैच्योरिटी वाले डेट इंस्ट्रूमेंट्स  में भी निवेश रखते हैं|
  5. लंबी समय अवधि के कारण बाजार के उतार-चढ़ाव का असर कम होता है|

क्लोज्ड एंडेड फंड्स से नुकसान: 

म्युचुअल फंड की इस योजना में निवेश से पूर्व इससे होने वाले नुकसान को समझना भी बेहद जरूरी है|जानते हैं इन फंड्स में निवेश के नुकसान|

  1. लंबे समय के लिए निवेश राशि का लॉक होना सबसे बड़ी समस्या है|
  2. मार्केट के लाभ में जाने का तत्काल कोइ लाभ नहीं होता|
  3. लंबे समय में निवेश करने पर खास रिटर्न नहीं मिलता |
  4. ओपन एंडेड फंड के मुकाबले प्रदर्शन खास नहीं होता|
  5. ओपन एंडेड फंड्स से बेहतर प्रदर्शन का डाटा मौजूद नहीं है |