Arthgyani
होम > म्यूच्यूअल फंड > जानीये बच्चों के लिए बेस्ट म्यूचुअल फंड?

जानीये बच्चों के लिए बेस्ट म्यूचुअल फंड?

सेबी ने बच्चों से जुड़े निवेश में काफी परिवर्तन किये हैं

नये वर्ष पर बच्चों को दीजिये म्यूचुअल फंड का तोहफा|अभिभावक प्रायः बच्चे के बालिग होने से पहले उसके लिए बचत करना चाहते हैं|इसके पीछे उच्च शिक्षा,विवाह एवं सुरक्षित भविष्य जैसे कई उद्देश्य होते हैं|जैसा कि हम सभी जानते है म्यूचुअल फंड एक सर्वाधिक लोकप्रिय निवेश विकल्प बन चुका है|नये वर्ष 2020 में दीजिये बच्चों को सुरक्षित भविष्य का तोहफा|ये तोहफा म्यूचुअल फंड में निवेश का भी हो सकता है|सेबी ने हाल में बच्चों से जुड़े निवेश में काफी परिवर्तन किये हैं|आज जानते हैं क्या हैं ये बदलाव एवं बच्चों के लिए उपयोगी म्यूचुअल फंड के विषय में|

सेबी ने किये हैं ये बदलाव:

पूंजी बाजार नियामक सेबी ने नाबालिग व्यक्ति के नाम पर संरक्षण द्वारा म्यूचुअल कोष योजनाओं में निवेश और उसके बालिग होने पर उसमें निवेश प्रक्रिया में संशोधन की सुगमता को लेकर नये नियम जारी किए हैं। इस परिवर्तन का उद्देश्य  संपत्ति प्रबंधन कंपनियों (एएमसी) में इस प्रकार की निवेश प्रक्रियाओं में एकरूपता लाना है। नियामक के अनुसार अब निवेश राशि का भुगतान नाबालिग के बैंक खाते या अभिभावक के साथ नाबालिग के संयुक्त खाते से चेक, डिमांड ड्राफ्ट या किसी अन्य माध्यम से स्वीकार किया जाएगा। मौजूदा निवेशक-खातों के लिये म्यूचुअल फंड कंपनी/एएमसी को निवेशक से योजना के पैसे के भुगतान से पहले भुगतान-आदेश में परिवर्तन के लिए कहना होगा।सेबी के अनुसार जिस नाबालिग के नाम पर खाता है, उसके बालिग होने पर उसे केवाईसी (अपने ग्राहक को जानों) ब्योरा देना होगा। साथ ही बैंक खाते विवरण देना होगा।  नाबालिग की स्थिति बदलकर बालिग न होने तक उसे, आगे के लेन-देन की अनुमति नहीं दी जाएगी। प्रसंस्करण में लगने वाले समय में सुधार के लिये सेबी ने कहा कि एएमसी को उन मामलों में छवि आधारित प्रसंस्करण को क्रियान्वित करनी होगी जहां दावाकर्ता नाबालिग या संयुक्त खाताधारक है। इसके अलावा म्यूचुअल फंड को अलग से केंद्रीय ‘हेल्ड डेस्क’ और ‘वेबपेज’ रखना होगा जिसमें पारेषण प्रक्रिया संबंधित जानकारी और निर्देश हों।

बच्चों के लिए उपयोगी हैं ये म्यूचुअल फंड:

अभिभावक अक्सर बच्चो के लिए उपयोगी म्युचुअल फंड के विषय में पूछते हैं| बच्चों के लिए उपयोगी निवेश योजनाएं अक्सर दीर्घकालीन होती हैं|बच्चों के लिए बेस्ट 6 फंड निम्नलिखित हैं|

आईसीआईसीआई प्र. चाइल्ड केयर प्लान:

यह एक एग्रेसिव फंड है| इसमें नेट इक्वीटी का लेबल लगभग 81 प्रतिशत है| यह फंड वैसे बच्चे जिनका उम्र  8 साल तक है उनके माता–पिता इस स्कीम का चुनाव कर सकते हैं|

एचडीएफसी चिल्ड्रेन प्लान:

एचडीएफसी का चिल्ड्रेन गिफ्ट एग्रेसिव फंड है| इसमें नेट इक्विटी का लेवल लगभग 70 प्रतिशत है और शेष 30 प्रतिशत डेट एवं नकद के रूप में है| यह फंड आठ साल की उम्र के बच्चों के लिए उपयोगी है |

आदित्‍य बिरला सनलाइफ इक्‍विटी फंड:

ये एक इक्विटी डेडिकेटेड फंड है| 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के मां-बाप इस फंड को अतीत के स्टर्लिंग प्रदर्शन को ध्यान में रखते हुए इसमें निवेश कर सकते हैं |इस फंड ने एक साल का रिटर्न 21 फीसदी के करीब बना दिया है| इस म्यूचुअल फंड में 1,000 रुपये की छोटी राशि से भी निवेश किया जा सकता है|

आदित्य बिड़ला फ्रंटलाइन इक्विटी फंड:

यह इक्विटी ओरिएंटेड फंड है जो दीर्घकालिक लाभ उत्पन्न कर सकता है| इस म्युचुअल फंड में ऑनलाइन निवेश भी किया जा सकता है| इस फंड में  एसआइपी के माध्यम से निवेश करके बच्चे की शिक्षा के लिए अग्रिम बजट बनाया जा सकता है| इस फंड का वार्षिक औसत रिटर्न 12% है|

रिलायंस टॉप 200 फंड – रिटेल प्लान:

यह लार्ज कैप इक्विटी शेयरों में पर आधारित फंड है| इस फंड ने अनुकूल परिस्थितियों में 25.85 फीसदी का रिटर्न दिया है| 5 साल कि अवधि में इस म्युचुअल फंड का औसत रिटर्न 18.56 फीसदी है| एसआइपी के माध्यम से इस फंड में हर महीने 100 रुपये की छोटी राशि से भी निवेश किया जा सकता है|

 केनरा रोबेको फंड: 

यह एक मिड कैप फंड है|इसमें एसआइपी के माध्यम से न्यूनतम 1,000 रुपये से निवेश किया जा सकता है| फंड का औसत रिटर्न आदर्श परिस्थितियों में करीब 21 फीसदी है|