Arthgyani
होम > न्यूज > टेलीकॉम कम्पनी

टेलिकॉम कम्पनियों ने सरकार को किया 4,500 करोड़ का भुगतान

टेलीकॉम कम्पनी Vodafone, Idea ने सबसे ज्यादा भुगतान किया है|

पिछले कुछ दिनों से टेलीकॉम कम्पनियां जैसे कि Jio, Vodafone, Idea, Airtel ये सभी अपने स्कीम में कालिंग और डाटा को लेकर कई नई स्कीमों को शामिल किया है| बता दें, कुछ समय पहले jio ने अपनी फ्री स्कीम को ख़ारिज कर जियो टू जियो कालिंग फ्री किया| इस होड़ में कई कमनियां भी शामिल हुई| कई दूरसंचार कम्पनियों ने नई स्कीमों को पेश किया है| ध्कियान दें, किस्तों को न भर पाने के कारण टेलीकॉम कंपनियां घाटे में चल रही हैं|

पीटीआई के मुताबिक़ टेलीकॉम कम्पनियों ने सरकार को 4500 करोड़ रूपये चुकाया है| जिनमें Jio, Vodafone, Idea, Airtel जैसी बड़ी कम्पनियां शामिल हैं| दूरसंचार कंपनियां फिलहाल वित्तीय संकट से जूझ रही हैं| इन कंपनियों ने पहले की नीलामी में खरीदे गए स्पेक्ट्रम की किस्तों से द्वारा इस राशि का भुगतान किया है| इन कंपनियों ने राशियों का भुगतान तीन से चार दिनों के अंतराल में किया है|

जानिये किस कंपनी ने किया कितना भुगतान

टेलीकॉम कम्पनी Vodafone, Idea ने सबसे ज्यादा भुगतान किया है| जिसमें वोडाफोन और आइडिया ने 2,421 करोड़ रुपए और भारती एयरटेल ने 977 करोड़ रुपए का भुगतान किया है। वहीं रिलायंस जियो ने दूरसंचार विभाग को 1,133 करोड़ राशि चुकाई| कुल मिलाकर इन कंपनियों ने स्‍पेक्‍ट्रम के बकाये में दूरसंचार विभाग को 4,531 करोड़ रुपए का भुगतान किया है|

मोदी सरकार ने पिछले साल मार्च में दूरसंचार कंपनियों का राहत देते हुए स्पेक्ट्रम भुगतान की सालाना किस्त को 10फीसदी से बढ़ाकर 16 फीसदी कर दिया था| इस समय टेलीकाम कम्पनियों के टैरिफ में काफी गिरावट दर्ज हुई है| दिग्गज कंपनी रिलायंस जियो बाकि कम्पनियों के लिए बड़ी प्रतिस्पर्धा कंपनी की तरह टक्कर दे रही है| इस वजह से दूरसंचार क्षेत्र का मुनाफा घट रहा है और दूसरी कम्पनियां घाटे में चल रहीं हैं| कम्पनियों ने सरकार से राहत के लिए लाइसेंस शुल्क और स्पेक्ट्रम शुल्क में कटौती करने तथा सरकार के पास जीएसटी इनपुट टैक्स क्रेडिट को जारी करने की भी मांग है|