Arthgyani
होम > न्यूज > टोल ट्रांजिक्शन @ 24 लाख प्रतिदिन

टोल ट्रांजिक्शन @ 24 लाख प्रतिदिन

फास्टैग की अधिकतम सीमा को 15 जनवरी तक बढाया गया है

फास्‍टैग अनिवार्य होने के बाद राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण के प्रतिदिन के राजस्व संग्रह में इजाफ़ा होने लगा है|बता दें कि बीते 15 दिसंबर से देशभर के 523 टोल प्लाजा पर फास्‍टैग को अनिवार्य कर दिया गया है|सरकार के निर्देशों के बाद अब हर छोटे या बड़े वाहन पर फास्‍टैग लगाना जरूरी हो गया है|फिलहाल लोगों की परेशानी को देखते हुए फास्टैग की अधिकतम सीमा को 15 जनवरी तक बढाया गया है|

टोल कलेक्‍शन @46 करोड़ रुपये/ दिन:

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के अनुसार अब तक विभिन्न बिक्री केंद्रों (पीओएस) के जरिए करीब 1.10 करोड़ फास्टैग जारी किए गए हैं|राजमार्ग प्राधिकरण के अनुसार रोज करीब डेढ़ से 2 लाख फास्टैग की बिक्री हो रही है|NHAI   के आंकड़ों के अनुसार हर दिन टोल कलेक्‍शन करीब 46 करोड़ रुपये पर पहुंच गया है|

लेन देन की संख्या 24 लाख:

आज तक से हुई बातचीत में राजमार्ग प्राधिकरण के अधिकारी ने कहा,”फास्टैग व्यवस्था शुरू होने के आठ दिन के भीतर ही फास्टैग से रोजाना आधार पर टोल लेनदेन की संख्या करीब 24 लाख पर पहुंच गई है|”उन्होंने बताया कि राजमार्ग प्राधिकरण इस व्यवस्था के शुरू होने के बाद से यात्रियों द्वारा उठाई जा रही समस्याओं को सुलझाने के लिए कड़ी मेहनत कर रहा है|अब तक उठाए गए सभी मुद्दों पर एनएचएआई के अधिकारी काम कर रहे हैं|विदित हो कि इससे पहले  फास्टैग से बढे राजस्व पर चर्चा करते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि राष्ट्रीय राजमागों के टोल प्लाजा पर जाम की समस्या से धीरे धीरे मुक्ति मिल रही है |इसके साथ ही फास्टैग के जरिए प्रति दिन 80 करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि एकत्रित की जा रही है।

क्‍या है फास्‍टैग ?

फास्‍टैग को नेशनल हाईवे के टोल प्‍लाजा पर डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए लागू किया गया है|फास्‍टैग को अपनी गाड़ी की विंडस्क्रीन पर लगाने से स्वचालित माध्यम से त्वरित भुगतान हो जाता है|दरअसल इसे लगाने के बाद नेशनल हाईवे के टोल प्लाजा से गुजरने पर वहां लगे कैमरे इसे स्‍कैन कर लेते हैं| इसके बाद टोल की रकम आपके अकाउंट से अपने आप कट जाएगी|ये प्रक्रिया चंद सेकेंड में पूरी हो जाती है|फास्‍टैग मोबाइल फोन की तरह रिचार्ज होता है| इसे My FASTag ऐप या नेटबैंकिंग, क्रेडिट/डेबिट कार्ड, यूपीआई के जरिये भी रिचार्ज किया जा सकता है| बता दें कि ग्राहकों की सुविधा को देखते हुए 25 फीसदी लेन को हाइब्रिड रखा गया है|जिसका  मतलब है कि इन हाइब्रिड लेन्स में 15 जनवरी तक फास्टैग के साथ कैश पेमेंट से भी तय टोल दिया जा सकेगा|