Arthgyani
होम > न्यूज > दुनिया का सबसे बड़े IPO आरामको ने छुआ रिकॉर्ड उंचाई

दुनिया का सबसे बड़े IPO आरामको ने छुआ रिकॉर्ड उंचाई

आईपीओ के बाद अरामको 1,700 अरब डॉलर के बाजार पूंजीकरण के साथ दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बन गयी है

सऊदी अरब की दिग्गज पेट्रोलियम कंपनी सऊदी अरामको (Saudi Aramco) का आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (Initial Public Offering) रिकॉर्ड 29.4 अरब डॉलर (करीब 2.08 लाख करोड़ रुपए) पर पहुंच गया है| यह पूर्व में घोषित आंकड़ों से कहीं अधिक है| कंपनी ने ‘ग्रीन शू विकल्प’ का इस्तेमाल कर निवेशकों की मांग को पूरा करने के लिए लाखों और शेयर बेचे हैं, जिससे आईपीओ की राशि बढ़ गई है|

दिसंबर में हुई थी अरामको ​की लिस्टिंग

कंपनी ने कहा कि IPO प्रक्रिया के तहत 45 करोड़ अतिरिक्त शेयरों की बिक्री की गई| इस कंपनी की अधिकांश हिस्सेदारी सरकार के पास है| कंपनी ने 11 दिसंबर को स्थानीय सऊदी तदावुल एक्सचेंज में कारोबार शुरू किया था|

लिस्टिंग के बाद तेजी से बढ़ा अरामको को बाजार पूंजीकरण

कारोबार के दूसरे दिन कंपनी का शेयर 10 डॉलर प्रति शेयर पर पहुंच गया था| इससे अरामको का बाजार पूंजीकरण (Market Capitalization) 2,000 अरब डॉलर पर पहुंच गया| इससे वह बड़ी आसानी से दुनिया की सबसे मूल्यवान कंपनी बन गई|

अलीबाबा के 25 अरब डॉलर के आईपीओ का रिकॉर्ड तोड़ा

इस आईपीओ ने 2014 में अलीबाबा के 25 अरब डॉलर के आईपीओ के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ दिया है| सउदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान की महत्वाकांक्षी योजना अर्थव्यवस्था को कच्चा तेल पर निर्भरता से उबारना है| इसके तहत अरामको की 1.5 प्रतिशत हिस्सेदारी यानी तीन अरब शेयरों को बेचने की पेशकश की गयी थी|

सऊदी अरामको का बाजार पूंजीकरण 1,700 अरब डॉलर

कंपनी ने शुक्रवार को कहा था कि वह आईपीओ से जुटायी गयी कुल पूंजी को 29.4 अरब डॉलर पर पहुंचाने के लिये अतिरिक्त शेयरों को बेच सकती है| आईपीओ के बाद अरामको 1,700 अरब डॉलर के बाजार पूंजीकरण के साथ दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी बन गयी है| व्यक्तिगत निवेशक के रूप में अरामको के शेयर सिर्फ सउदी अरब के नागरिक ही खरीद सकते हैं|

क्या होता है ग्रीन शू विकल्प?

‘ग्रीन शू विकल्प’ के तहत कंपनी निवेशकों की मांग को पूरा करने के लिए करती है| इसमें कंपनी आईपीओ के लिए पहले से तय शेयरों के अलावा ​अतिरिक्त शेयरों की बिक्री करती है| अतिरिक्त शेयरों की बिक्री का मतलब है कि अरामको ने सार्वजनिक रूप से अपने 1.7 प्रतिशत शेयर बेचे हैं| अतिरिक्त शेयरों की बिक्री से पहले ही अरामको का आईपीओ दुनिया की सबसे बड़ी शेयर बिक्री बन चुका था|