Arthgyani
होम > न्यूज > एनएफओ

निवेश सूचना: टाटा का न्यू फण्ड ऑफर(nfo)

टाटा फोकस्ड इक्विटी फंड 15 नवम्बर से निवेश शुरू

अक्सर ही निवेशक निवेश के लिए एनएफओ की तलाश में रहते हैं|दरअसल  एनएफओ किसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी की नई स्कीम होती है| इसके जरिए  म्यूचुअल फंड कंपनी शेयरों, सरकारी बॉन्ड जैसे इंस्ट्रूमेंट में निवेश करने के लिए निवेशकों से पैसे जुटाती है|ये फण्ड मुख्यतः भविष्य के पूर्वानुमान पर आधारित होते हैं|हालांकि विशेष परिस्थितियों में ये अनुमान गलत भी साबित हो सकते हैं|इसके बावजूद भी कम निवेश मूल्यों के कारण निवेशक प्रायः एनएफओ की ओर आकर्षित होते हैं|निवेशकों के इसी आकर्षण को ध्यान में रखते हुए टाटा एसेट मैनेजमेंट ने नई स्कीम लॉन्च की है|जिसका नाम है टाटा फोकस्ड इक्विटी फंड |आइये जानते हैं इस फंड से जुड़ी निवेश की संभावनाओं के विषय में |

एसआईपी(sip) के जरिये भी कर सकते हैं निवेश:

 टाटा फोकस्ड इक्विटी फंड का एनएफओ जैसा की नाम से स्पष्ट है इस फंड का झुकाव इक्विटी की ओर है|अधिकांश निवेशक इक्विटी कोषों में निवेश के लिए मुख्य रूप से एसआईपी का सहारा लेते हैं|sip के माध्यम से किये गये निवेश में जोखिम अपेक्षाकृत कम हो जाता है|amfi के ताजा आंकड़ों के मुताबिक म्युचुअल फंड उद्योग में कुल 44 कंपनियां काम कर रही हैं। म्युचुअल फंड उद्योग ने अक्टूबर में सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (एसआईपी) के जरिये 8,246 करोड़ रुपए जुटाए हैं।यह एक साल पहले की इसी अवधि की तुलना में 3.2 प्रतिशत अधिक है।शेयर बाजारों में तेजी के बीच सरकार द्वारा कई सुधारों की वजह से म्यूचुअल फंड उद्योग में एसआईपी निवेश बढ़ा है।निवेशकों के निवेश के आंकड़े बताते हैं कि उनका रुझान एसआईपी के माध्यम से इक्विटी में निवेश की ओर बढ़ा है|आप भी इस एनएफओ में एसआईपी के जरिये निवेश कर सकते हैं|

जानीये फंड के बारे में:

जानते हैं टाटा एसेट मैनेजमेंट के नये एनएफओ के बारे में| यह ओपन एंडेड इक्विटी स्कीम(nfo) है|जिसका सीधा सा अर्थ है इसमें किसी तरह की लॉक-इन अवधि नहीं है|इस एनएफओ का नाम टाटा फोकस्ड इक्विटी फंड है| फंड हाउस के अनुसार  ये फंड  30 शेयरों के कॉन्सेंट्रेटेड (सघन) पोर्टफोलियो में निवेश करेगी| ये शेयर सभी मार्केट कैपिटलाइजेशन के अनुसार  होंगे| सरल शब्दों में कहें तो  लार्ज, मिड और स्मॉलकैप तीनों तरह के शेयर शामिल होंगे|टाटा फोकस्ड इक्विटी फंड का बेंचमार्क S&P BSE 200 TRI होगा| इस स्कीम के प्रबंधन का जिम्मा रूपेश पटेल पर होगा| यह न्यू फंड ऑफर (NFO) निवेश के लिए 15 नवंबर से खुलेगा और 29 नवंबर को यह बंद हो जाएगा|

बता दें कि एनएफओ किसी एसेट मैनेजमेंट कंपनी की नई स्कीम होती है|जिसके जरिए म्यूचुअल फंड कंपनी शेयरों, सरकारी बॉन्ड जैसे इंस्ट्रूमेंट में निवेश करने के लिए निवेशकों से पैसे जुटाती है| फंड हाउस के अनुसार, स्कीम बेहद भरोसेमंद 30 शेयरों के पोर्टफोलियो में पैसा लगाएगी| इन सभी में निवेश की मात्रा काफी ठीकठाक रखी जाएगी| यह मल्टीकैप फंड होगा| इसमें किसी खास सेक्टर या मार्केट कैप को विशेष तरजीह नहीं दी जाएगी|

क्या कहते हैं फंड मैनेजर:

इस एनएफओ के प्रबंधन का जिम्मा संभाल रहे हैं रुपेश पटेल|जिन्हें इक्विटी और रियल एस्टेट आधारित निवेश योजनाओं में 19 वर्ष से अधिक का अनुभव है|  टाटा म्यूचुअल फंड के सीनियर फंड मैनेजर रूपेश के मुताबिक, “ये एनएफओ  कंपनियों का चुनाव करने में खास रणनीति को अपनाएगी|पोर्टफोलियो में इस तरह के शेयर चुने जाएंगे जो किफायती कीमत पर उपलब्ध हों और ग्रोथ की संभावना जबर्दस्त हो| निवेश को लेकर स्कीम मल्टीकैप एप्रोच को अपनाएगी| यानी किसी खास सेक्टर या मार्केट कैप की ओर ज्यादा झुकाव नहीं रखा जाएगा| जोखिम को लेकर सतर्क रुख अपनाया जाएगा. बहुत ज्यादा जोखिम लेने से बचा जाएगा|”

किसके लिये है उपयुक्त?

एनएफओ विशिष्ट निवेश प्रणाली पर आधारित होते हैं|जिनमे भविष्य की संभावना के अनुसार निवेश का प्रबंधन किया जाता है|हालांकि एनएफओ का पुराना रिटर्न का आंकड़ा उपलब्ध न होने के कारण कई बार इनमे जोखिम की आशंका भी होती है|कम्पनी के दावों के अनुसार ये फंड निम्न निवेशकों के लिए उपयुक्त है|

  • लम्बे निवेश के लिये इच्छुक निवेशक|
  • उच्च रिटर्न की संभावना तलाश रहे निवेशक|
  • वे निवेश जो विविधता आधारित बहुआयामी मार्केट कैपिटलाइजेशन वाले निवेश विकल्पों की तलाश में हैं|

अधिक जानकारी:

निवेशक अधिक जानकारी के  लिए टाटा एसेट मैनेजमेंट की वेबसाइट से सूचना एकत्र कर सकते हैं|वेबसाइट का पता है|www.tatamutualfund.com