Arthgyani
होम > म्यूच्यूअल फंड > कोटक पॉयनियर फंड

पॉयनियर कंपनियों को लेकर कोटक एनएफओ जारी करेगा कोटक

कोटक पॉयनियर फंड की पेशकस एनएफओ 23 अक्टूबर 2019 तक आवेदन किया जा सकेगा

कोटक महिंद्रा एसेट मैनेजमेंट कंपनी जल्द ही लाएगी नया एनऍफ़ओ|’कोटक पॉयनियर फंड’ नाम से आ रहे इस फंड में स्थायी दीर्घकालिक वृद्धि की संभावना और प्रतिस्पर्धी दीर्घकालिक लाभ वाली इनोवेटर और अपने क्षेत्र की अग्रणी (पॉयनियर) कंपनियों की पहचान कर उनमें निवेश किया जाएगा। इस नए फंड की पेशकश (एनएफओ) आवेदन के लिए 09 अक्टूबर 2019 से शुरू हुई और इसमें 23 अक्टूबर 2019 तक आवेदन किया जा सकेगा।

बता दें, यह फंड उन कंपनियों में निवेश करेगा, जो उत्पादन, प्रौद्योगिकी, वितरण या प्रक्रियाओं के नए स्वरूपों से लाभ उठाना चाहती हैं। कोटक पॉयनियर फंड का प्रबंधन हरीश कृष्णन करेंगे। यह फंड बदलते व्यापारिक मॉडल के अनुसार भविष्य में सफल होने की उम्मीद वाली कम्पनियों में निवेश करेगा| कोटक पॉयनियर फंड एक फ्रेमवर्क के आधार पर ऐसी ‘अग्रणी कंपनियों’ की पहचान करने के लिए एक सुगठित निवेश प्रक्रिया का पालन करेगा। यह फंड उन कंपनियों में निवेश करेगा, जो उत्पादन, प्रौद्योगिकी, वितरण या प्रक्रियाओं के उन नए स्वरूपों से लाभ उठाना चाहती हैं| जिनमें मौजूदा बाजारों या वैल्यू नेटवर्कों को चुनौती देने, बाजार में स्थापित प्रमुख कंपनियों को विस्थापित करने या नवीनता वाले उत्पादों और व्यवसायिक मॉडलों को लाने की संभावना है।

फंड में विभिन्न क्षेत्रों और शेयरों की अच्छी विविधता रखी गयी

कोटक पॉयनियर फंड वैश्विक फंडों में निवेश के जरिये वैश्विक उद्यमियों का लाभ उठा सकता है, और इस तरह यह भारतीय निवेशकों को भौगोलिक विविधीकरण एवं दुनिया भर में हो रहे व्यापक तकनीकी परिवर्तनों तक पहुंच हासिल करने का अवसर दे सकता है। कोटक पॉयनियर फंड निवेश से जुड़े नियमों और दृष्टिकोण का पालन करेगा| ऐसी कंपनियों को चुनेगा, जिनके पास आय के कई स्रोतों का ट्रैक रिकॉर्ड हो, जिससे उपभोक्ताओं का बेहतर अनुभव मिले। इस फंड में विभिन्न क्षेत्रों और शेयरों में विविधता देखने को मिलेगी| जिससे जोखिम कम रहे भौगोलिक विविधता भी प्रदान हो|

ये हैं कोटक पॉयनियर फंड की विशेषताएं

  • भौगोलिक रूप से, विभिन्न क्षेत्रों में और बाजार पूंजीकरण के आधार पर विविधता का अवसर बढ़ेगा
  • विभिन्न क्षेत्रों के एक गतिमान यूनिवर्स से शेयरों को चुनने वाला मल्टी-कैप फंड रहेगा|
  • अपेक्षाकृत नयी अर्थव्यवस्था वाले व्यवसायों तक पहुंच होगी|
  • इसमें निवेश से वैश्विक उद्यमियों और अग्रणी प्रौद्योगिकी कंपनियों का लाभ मिल सकेगा|