Arthgyani
होम > योजना > प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – PMGKY

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना – PMGKY

आवेदक को ऑथराइज्ड बैंक की शाखा में खुलवाना होगा खाता 

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना की शुरुआत 2016 में हुई है। इस योजना के तहत सरकार काले धन का उपयोग गरीबों के विकास के कामो पर खर्च करती है। सरकार ने ये योजना ऐसे लोगों के लिए चलाई है जिनके पास आय से अधिक सम्पति है यानी काला धन है। जिनके पास काला धन है वो लोग इस योजना के तहत गरीब कल्याण योजना में पैसे जमा कर सकते हैं। इसके लिए सरकार ने 31 मार्च 2017 तक का समय दिया था। साथ ही इस योजना के तहत सिर्फ एक बार ही पैसा जमा किया जा सकता है। क्या है गरीब कल्याण योजना और क्या हैं इसके नियम और शर्त|

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना: नियम और शर्तें

1. जिनके पास है आय से अधिक सम्पति (काला धन)

जिन लोगों के पास कालाधन है वह इस प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत इसमें पैसे जमा करा सकते हैं। जो भी लोग इस योजना के तहत पैसे जमा करवाएंगे वो लोग अगले चार साल तक खाते से पैसे नहीं निकाल पायेगा। और ख़ास बात उस खाते पर किसी प्रकार का ब्याज भी नहीं मिलेगा।

2. आवेदक को ऑथराइज्ड बैंक की शाखा में खुलवाना होगा खाता 

इस योजना के तहत खाता खोलने के लिए सबसे पहले आवेदक को किसी भी ऑथराइज्ड बैंक की शाखा में खाता खुलवाना होगा। वहां अपना पैनकार्ड और अन्य डिटेल बैंक को देनी होगी। इस खाते के लिए RBI ने एक खास तरह का फॉर्म दिया है जिसे अघोषित संपत्ति रखने वालों को ही भरना होगा।

3. इस योजना के तहत एक बार ही जमा कर सकते हैं पैसा

इस योजना के तहत काला धन रखने वाले लोगों को सिर्फ एक बार ही पैसे भरने प्रावधान मिलेगा। जिस किसी के भी पास कला धन है वो एक बार में ही करा सकेगा पैसा जमा उनको दौबारा ये मौका नहीं दिया जाएगा।

4. खाताधारक किसी अन्य को नहीं भेज सकता पैसा

इस योजना द्वारा खुलवाये गए खाते की खासीयत ये है खाताधारक अपने खाते से कसी दुसरे को पैसा ट्रान्सफर नहीं कर सकता है। किसी कारणवश खाताधारक की मृत्यु हो जाती है तो नॉमिनी को ये दिए जायेंगे।

5. चार साल तक नहीं निकाल सकते पैसे, नहीं मिलेगा कोई ब्याज

इस योजना द्वारा खाताधारक जमा किए गए पैसों को चार साल तक नहीं निकाल पायेगा । ख़ास बात ये भी है खाताधारक को बैंक की तरफ से कोई ब्याज भी नहीं दिया जाएगा ।

6. गरीबों के कल्याण और विकास के लिए इस्तेमाल होगी राशी 

  1. जुर्माने से जो राशि आएगी उसका इस्तेमाल गरीब कल्याण योजना के लिए किया जाएगा।
  2. अगर गरीब कल्याण योजना के बाद काले धन का पता चला और आय के स्रोत की जानकारी नहीं मिली तो 77.25      फीसदी पैसा सरकार ले लेगी।
  3. आय का स्रोत साबित नहीं कर सके तो 85 फीसदी पैसा भरना होगा।
  4. योजना के बाद छापा पड़ने पर काला धन मिलने पर 60 फीसदी पैसा भरना होगा।
  5. अगर छापा पड़ा और काले धन होने की बात स्वीकारी तो 90 फीसदी पैसा सरकार को देना पड़ेगा।