Arthgyani
होम > न्यूज > फास्टैग

फास्टैग एलर्ट: 70 लाख से ज्यादा फास्टैग हुए जारी

26 नवंबर, 2019 (मंगलवार) को एक दिन में 1,35,583 जितने फास्टैग जारी किए गए

केंद्र सरकार द्वारा टोल टैक्स, पेट्रोल, पार्किंग जैसे बिलों के भुगतान के लिए फ़ास्टैग को प्रस्तुत किया गया है|एजेंसी की खबर के मुताबिक़, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने बताया कि अभी तक 70 लाख से ज्यादा फास्टैग जारी किए गए है। जिसमें 26 नवंबर, 2019 (मंगलवार) को एक दिन में 1,35,583 जितने टैग जारी किए गए। अभी तक की सबसे अत्यधिक बिक्री का रिकॉर्ड दर्ज हुआ है|इससे पहले भी एक दिन में 1.03 लाख टैग जारी किये गए|

राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह (NETC) द्वारा आयोजित योजना 

सरकार द्वारा इस राष्ट्रीय इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह (NETC) योजना को देशभर में लागू किया गया है| इस योजना के तहत बाधाओं को खत्म करके यातायात को सरल और सुरक्षित बनाया जा सकेगा|इसकी मद्द से शुल्क संग्रह करने में अस्सानी होगी|यह पहल सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की प्रमुख की ओर से जारी की गई है| फास्टैग के जारी होने से प्रतिदिन औसतन 330 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज हुई है।

फास्टैग वितरण के आंकड़े बढ़े 

फास्टैग को 21 नवंबर को मुफ्त किए जाने के बाद फास्टैग की बिक्री में ज्यादा तेजी देखी गई है। फास्टैग का यह आंकड़ा जुलाई में 8,000 था जो कि बढ़कर नवंबर महीने में 35,000 पहुंच गया है। अभी तक फास्टैग को 560 से ज्यादा टोल प्लाजा उपलब्ध कराया गया है| हर जगह इसे और भी बढ़ाया मिल रहा है।

फ़ास्टैग एक टैग है, जिसे रेडिओ फ्रीकवेंसी आईडेंटिफिकेशन से कनेक्ट किया गया है|इसे नेशनल इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन के द्वारा संचालित किया जाता है यह प्रणाली नेशनल हाईवे ऑथोरिटी ऑफ़ इंडिया के अंतर्गत आती है|