Arthgyani
होम > न्यूज > वित्त समाचार > फेडरल बैंक

फेडरल बैंक को हुआ 416.7 करोड़ रुपये का मुनाफा

बैंक को 51.58 फीसदी इजाफे के साथ एनपीए में भी बढ़ोत्तरी

बुधवार को फेडरल बैंक शेयरों में 5.1 फीसदी की गिरावट देखने को मिली। वहीं निजी फेडरल बैंक ने वित्त वर्ष के दूसरी तिमाही के रिसल्ट को जारी किया है| बैंक को 51.58 फीसदी का इजाफा हुआ और फेडरल बैंक के एनपीए में भी बढोत्तरी हुई| पिछले वर्षों के आधार पर बैंक का मुनाफा 266 करोड़ से बढ़कर 416.7 करोड़ रूपए हो गई|

बाते दें, चालू वित्त वर्ष 2019 के सितंबर तिमाही के नतीजे जारी करने के बाद बैंक का शेयर गिरकर 80.25 रुपये पर आ गया। और दूसरी तिमाही में बैंक का शुद्ध एनपीए गिरकर कर्ज का 1.59 फीसदी रह गया| पिछले वर्ष इसी तिमाही में एनपीए 1.78 फीसदी पर था| बैंक का कुल कारोबार 16.57 फीसदी बढ़कर 2, 55, 439.74 करोड़ रूपए हो गया|

ध्यान दें, फेडरल बैंक का कुल कर्ज 1,00, 940.88 करोड़ रूपये था जो कि  बढ़कर 1,15,893.21 करोड़ रूपये हो गया| वहीं दूसरी तिमाही में बैंक की ब्याज आय 1,123.77 करोड़ रूपये हुई| देखें तो तिमाही के आधार पर दूसरी तिमाही में बैंक की प्रोविजनिंग 288.8 करोड़ रुपये से बढ़कर 251.8 करोड़ रुपये रही है जबकि पिछले साल की दूसरी तिमाही में प्रोविजनिंग 192 करोड़ रुपये थी।

विदित हो, बैंक का ग्रॉस एनपीए 2.99 फीसदी से बढ़कर 3.07 फीसदी रहा है। तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में फेडरल बैंक का नेट एनपीए 1.49 फीसदी से बढ़कर 1.59 फीसदी जितना रहा है। ग्रॉस एनपीए 3,395 करोड़ रुपये से बढ़कर 3,612 करोड़ रुपये रहा है। वहीं बैंक का नेट एनपीए 1,673 करोड़ रुपये से बढ़कर 1,844 करोड़ रुपये रहा है।