Arthgyani
होम > टैक्स (कर) > मनोरंजन कर क्या है?

मनोरंजन कर क्या है?

भारत में हर वित्तीय लेन- देन, जो मनोरंजन (Entertainment) से जुडी होती है ,जैसे:फिल्म टिकट, प्रमुख कमर्शियल शो या कोई बड़ा निजी त्यौहार, उनपे मनोरंजन कर (Entertainment Tax) लगता है। भारतीय संविधान के अनुसार, मनोरंजन कर सूचि २ के अंतर्गत आता है। इससे कमाया हुआ राजस्व आम तौर पर राज्य सरकार को जाता है।

मनोरंजन कर (Entertainment Tax) का इतिहास:

स्वतंत्रा के पूर्व, अंग्रेजी शासक, मनोरंजन केंद्रित आयोजनों में भारी कर वसूला करते थे । इसका मुख्य उद्देश्य होता था- सार्वजनिक विद्रोह को रोकना या उनसे बचाव । क्योंकि भारत की राजनीती उस समय बहोत ही संवेदनशील और महत्वपूर्ण दौर से गुज़र रही थी इसलिए अंग्रेजो को भारतीय विद्रोह का डर लगा रहता था।

मनोरजंकारी उद्यान ( Amusement Park), विडिओ गेम्स (Video games), आर्केड (Arcades), प्रदर्शनियों (Exhibitions), सेलिब्रिटी स्टेज शो (Celebrity stage shows),खेलकूद गतिविधियां (Sports activities) , ये मनोरंजन जगत के वह क्षेत्र है, जो मनोरंजन कर (Entertainment Tax) के अंतर्गत राज्य सरकार को कर देने के लिए बाध्य है।

भारत में मनोरंजन कर (Entertainment Tax) इकठ्ठा करने की ज़िम्मेदारी राज्य सरकार की है, हालाँकि लेन देन के तरीकों के आधार पर केंद्र सरकार भी मनोरंजन कर (Entertainment Tax) वसूल सकती है।

भारतीय संविधान के आर्टिकल २४६ में मनोरंजन कर (Entertainment Tax) से सन्दर्भित सभी वित्तीय सिद्धांतो का वर्णन किया गया है।