Arthgyani
होम > न्यूज > जोमोटो

मुनाफ़ा कमाने वाली कंपनी बनने का लक्ष्य – Zomato

दीपिंदर गोयल ने भाषा से कहा, ‘‘एक साल में, हम मुनाफ़ा कमाने वाली कंपनी बन जाएंगे।

बीते कुछ सालों में भारत में भी बाहर का खाना खाने की लोगों को आदत पड़ी है। साथ ही जंक फ़ूड का बोलबोला भी बढ़ गया है। ऐसे में कई कंपनियों ने भारत में अपने पांव पसारे हैं जो ऑनलाइन ऑर्डर के जरिये खाने पीने के सामान की डिलिवरी करते हैं। ऐसे ही ऑनलाइन ऑर्डर के जरिये खाने पीने के सामान की डिलिवरी करने वाले कंपनी जोमाटो का नाम आज शायद ही कोई ऐसा हो जो न जानता हो। जोमाटो का 2020 के अंत तक मुनाफा कमाने वाली कंपनी बनने का लक्ष्य है।

मुख्य बिंदु

  • कंपनी का हर महीने का खर्च करीब 1.5 करोड़ डॉलर है।
  • कंपनी ने अपने नकद खर्चो को पहले की तुलना में 70 प्रतिशत कम किया।
  • अप्रैल-सितंबर में आमदनी तीन गुना से अधिक होकर 20.5 करोड़ डॉलर पे पहुंची।
  • पिछले साल सामान अवधि में यह मात्र 6.3 करोड़ डॉलर थी।
  • कंपनी ने अगले महीने तक 60 करोड़ डॉलर या 4,277 करोड़ रुपये जुटाने की घोषणा की है।

जोमोटो के संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपिंदर गोयल ने पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘एक साल में, हम मुनाफ़ा कमाने वाली कंपनी बन जाएंगे। हम अपने नकद खर्चों को सात माह पहले की तुलना में 70 प्रतिशत तक कम कर चुके हैं।’’ फिलहाल कंपनी का हर महीने का खर्च करीब 1.5 करोड़ डॉलर है। इससे पहले जोमाटो ने अक्टूबर में कहा था कि अप्रैल-सितंबर, 2019 में उसकी आमदनी तीन गुना से अधिक होकर 20.5 करोड़ डॉलर या 1,458 करोड़ रुपये पर पहुंच गई है, जो इससे एक साल पहले समान अवधि में 6.3 करोड़ डॉलर या 448 करोड़ रुपये थी। कंपनी ने हाल में वित्तपोषण के नए दौर के तहत अगले महीने तक 60 करोड़ डॉलर या 4,277 करोड़ रुपये जुटाने की घोषणा की है।