Arthgyani
होम > न्यूज > म्युचुअल फंड की तरह काम करेगा इनविट

म्युचुअल फंड की तरह काम करेगा इनविट

राजमार्ग क्षेत्र में 15 लाख करोड़ रुपये का और निवेश होगा

सरकार वैश्विक स्तर का बुनियादी ढांचा बनाने पर ध्यान दे रही है|आने वाले पांच साल में राजमार्ग क्षेत्र में 15 लाख करोड़ रुपये का और निवेश होगा|राजमार्ग या बुनियादी ढांचा निर्माण की बात आती है,तो कोष कभी समस्या न रहा है और न रहेगा| ये बातें सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहीं|वे सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय की आगामी योजनाओं की जानकारी दे रहे थे|

विभिन्न परियोजनाओं पर प्रकाश डाला:

केंद्रीय मंत्री ने इस संबोधन के दौरान बीते पांच वर्षों के ब्यौरे के साथ ही आगामी परियोजनाओं और प्राथमिकताओं पर प्रकाश डाला|गडकरी ने बताया कि, हमने राजमार्गों और पोत परिवहन क्षेत्रों में पिछले पांच साल में संयुक्त रूप से 17 लाख करोड़ रुपये खर्च किये हैं| 22 हरित एक्सप्रेसवे समेत वैश्विक स्तर की सड़कों के निर्माण के लिये आने वाले 5 साल में केवल राजमार्ग क्षेत्र में 15 लाख करोड़ रुपये निवेश का निवेश किया जाएगा|मंत्रालय की अग्रिम वर्ष की प्राथमिकता में 12,000 करोड़ रुपये की चार धाम परियोजना पूरी करने का है|जिसके तहत बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के लिये बाहरमासी संपर्क सुविधा उपलब्ध कराया जाना है|इसके अलावा कैलाश-मानसरोवर यात्रा को आसान बनाने के लिये उत्तराखंड के रास्ते राजमार्ग को पूरा करना है|जिसमें करीब 75 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है|भारतमाला परियोजना का जिक्र करते हुए गडकरी  ने बताया कि इस परियोजना के तहत मंत्रालय ने 26,200 किलोमीटर लंबा आर्थिक गलियारा, 8,000 किलोमीटर आंतरिक गलियारा, 7,500 किलोमीटर फीडर (अंदरूनी) मार्ग, 5,300 किलोमीटर सीतावमर्ही और अंतरराष्ट्रीय संपर्क सड़क, 4,100 किलोमीटर तटवर्ती और बंदरगाह संपर्क वाली सड़कों तथा 1,900 किलोमीटर एक्सप्रेसवे के निर्माण को चिन्हित किया गया है|

म्युचुअल फंड की तरह काम करेगा इनविट:

देश में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी की पहचान नए मोटर वाहन कानून, इलेक्ट्रॉनिक रूप से पथकर वसूली, जैसे कड़े एवं महत्वपूर्ण निर्णय लेने वाले मंत्री की है|अब उन्होंने कोष जुटाने के लिये इनविट जैसा कदम उठाया है|भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (NHAI) के बुनियादी ढांचा निवेश ट्रस्ट (InVit) पर प्रकाश डालते हुए गडकरी ने बताया कि राष्ट्रीय राजमार्ग परियोजनाओं को बाजार पर चढ़ाने का निर्णय राजमार्ग विकास में एक और मील का पत्थर साबित होगा|म्युचुअल फंड की तरह काम करने वाले इनविट को इस रूप से तैयार किया गया है जिससे निवेशकों से छोटी-छोटी राशि प्राप्त की जा सके|उसे ऐसी संपत्तियों में निवेश किया जाए जिससे समय-समय पर नकद प्रवाह होते रहे|विदित हो कि मंत्रिमंडल ने दिसंबर में एनएचएआई को इनविट के गठन को मंजूरी दे दी है|इसके बाद अब प्राधिकरण पूरा हो चुके राष्ट्रीय राजमार्गों को बाजार पर चढ़ा सकेगा|केंद्रीय मंत्री ने कहा कि, ‘‘हमें उम्मीद है कि पेंशन और अन्य कोष भी इसमें निवेश के लिये आगे आएंगे|’’

फास्टैग से सालाना आय 8,000 करोड़ रुपये पहुंचने का अनुमान:

फास्टैग की सफलता से उत्साहित गडकरी ने कहा कि, “ई-पथकर के अमल में आने के साथ पथकर आय सालाना 8,000 करोड़ रुपये पहुंच जाने का अनुमान है|उन्होंने बताया कि जब से फास्टटैग प्रणाली अनिवार्य हुई है, पथकर आय उछलकर 25 करोड़ रुपये रोजाना पहुंच गयी है|”बता दें फास्टैग अनिवार्य किये जाने से दिसंबर के मध्य तक कुल एक करोड़ फास्टैग जारी किये गये हैं तथा कुछ जगहों पर ई-पथकर से छूट दी गयी है|