Arthgyani
होम > न्यूज > युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया

युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया के क़िस्मत के सितारे चमके

UNITED BANK OF INDIA को 124 करोड़ रुपये का हुआ मुनाफ़ा

बीते कुछ महीनों से युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया बहुत बुरे दौर से गुज़र रहा था। वित्त वर्ष 2018 – 2019 की दूसरी तिमाही में युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया को 883.2 करोड़ रुपये का घाटा हुआ था। लगातार घाटे को झेलता हुआ वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में कंपनी की ब्याज आय 442.6 करोड़ रुपये रही थी।

वित्त वर्ष 2019 – 2020 की दूसरी तिमाही में युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया ने 124 करोड़ रुपये का मुनाफ़ा दर्ज़ किया है। वित्त वर्ष 2020 की दूसरी तिमाही में युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया की ब्याज आय 74.6 फीसदी बढ़कर 773 करोड़ रुपये रही है। वित्त वर्ष 2019 की दूसरी तिमाही में युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया की ब्याज आय 442.6 करोड़ रुपये रही थी।

तिमाही दर तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया का ग्रॉस नॉन परफार्मिंग एसेट (NPA) 15.89 प्रतिशत से घटकर 15.51 प्रतिशत यानि 11,640 करोड़ रुपये से घटकर 11,544 करोड़ रुपये रहा है। जबकि नेट एनपीए 8.19 फीसदी से घटकर 7.88 फीसदी यानि 5,496 करोड़ रुपये से घटकर 5,381 करोड़ रुपये रहा है।

तिमाही आधार पर दूसरी तिमाही में युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया की प्रोविजनिंग 571.6 करोड़ रुपये से घटकर 436.4 करोड़ रुपये रही है जबकि पिछले साल की दूसरी तिमाही में युनाइटेड बैंक ऑफ़ इंडिया की प्रोविजनिंग 1,481 करोड़ रुपये रही थी।

दूसरी तिमाही में बैंक की प्रोविज़न कवरेज़ स्तर 74.89 फीसदी पर दर्ज़ हुआ।