Arthgyani
होम > न्यूज > व्हाट्सऐप ने साझा किया, भारत से 6.84 करोड़ की कमाई हुई

व्हाट्सऐप ने साझा किया, भारत से 6.84 करोड़ की कमाई हुई

कंपनी ने पहली बार इस तरह की जानकारी साझा की है। 

सोशल मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप को पिछले वित्त वर्ष में भारत से 6.84 करोड़ की कमाई हुई है।  कंपनी ने पहली बार इस तरह की जानकारी साझा की है।  बीते दिनों तमाम विवादों से घिरे व्हाट्सऐप ने आख़िरकार अपने बारे में कुछ अच्छी बातें भी हिंदुस्तान के साथ शेयर किया है।  कंपनी ने एक साल पहले कारोबारियों के लिए अलग से एक बिज़नेस ऐप लॉन्च किया है  ताकि वो अपने ग्राहकों से सीधा संवाद कर सके। 

जिस्ट्रार ऑफ कंपनीज (RoC) में दायर दस्तावेज के अनुसार व्हाट्सऐप ने वित्तीय वर्ष 2019 में 6.84 करोड़ रुपये के राजस्व और 57 लाख रुपये का लाभ कमाया है। भारत में करीब एक मिलियन से भी अधिक व्यवसायी व्हाट्सऐप बिज़नस ऐप का इस्तेमाल कर रहे हैं और इसके जरिये अपने ग्राहकों के साथ बातचीत और सूचना के आदान-प्रदान कर रहे हैं। 

व्हाट्सऐप  के अनुसार कंपनी ने अपना ऑपरेशन पूरी कुशलता के साथ शुरू कर दिया है और अपने आईटी सक्षम व्यावसायिक सेवाओं की आउटसोर्सिंग के साथ कमाई की भी शुरुआत कर दी है। कंपनी ने वित्त वर्ष 2018 में अपनी कोई भी कमाई दर्ज नहीं की थी। साथ ही कंपनी ने 5 लाख रुपये के ख़र्चे का भी जिक्र किया था। साथ ही कंपनी पर 5.9 करोड़ की देनदारी है। 

व्हाट्सऐप बिज़नस ऐप के ख़ास फ़ीचर 

  1. प्रोफाइल मेंबिज़नस लोगो यूज कर सकेंगे।
  2. प्रोफाइल फोटो के साथ कारोबारी ई-मेल आईडी, बेवसाइट और एड्रेस की भी जानकारी दे सकते हैं ।
  3. इस ऐप में आप मोबाइल नंबर के साथ-साथ लैंडलाइन नंबर भी जोड़ सकते हैं।
  4. मोबाइल ऐप के साथ-साथ आप व्हाट्सऐप बिजनेस ऐप को अपने ब्राउजर में डेस्कटॉप और लैपटॉप पर भी एक्सेस कर सकते हैं।
  5. व्हाट्सऐप मैसेंजर ऐप और बिजनेस ऐप आप एक ही फोन में चला सकते हैं लेकिन दोनों के लिए नंबर अलग-अलग होने चाहिए।
  6. इसमें लोकेशन शेयरिंग का भी विकल्प है।

ख़ास बिंदु

  • ज्ञात हो कि वित्तीय वर्ष 2019 के दौरान अप्रैल में कंपनी के निदेशक ऐनी होगे मिलिकेन ने इस्तीफा दे दिया था और कंपनी ने आशीष चंद्र को उनकी जगह नियुक्त किया था। 
  • आपको बता दे कंपनी का स्वामित्व फेसबुक के पास है वहीँ Facebook India Online Services देश में इसकी फ़ेलो Subsidiary है। इक्विटी और देनदारियों के सन्दर्भ में कंपनी इसी रूप से कार्य करती है।