Arthgyani
होम > Initial Public Offering (IPO) – इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग

Initial Public Offering (IPO) – इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग

« Back to Glossary Index

Initial Public Offering (IPO) बाजार में पहली बार अपनी परियोजनाओं के लिए धन जुटाने के लिए जनता से धन इकट्ठा करने का एक रास्ता है। बदले में, कम्पनी निवेशकों को कम्पनी में हिस्सा देती है |

IPO की पेशकश की कीमत वह कीमत होती है जिस पर कम्पनी निवेशकों को अपने शेयर बेचती है। शुरुवाती मूल्य वह मूल्य है जिस पर वे शेयर खुले बाजार में व्यापार करना शुरू करते हैं।

लो प्राइस स्टॉक और निजी कम्पनियो में इक्विटी जैसे प्लेटफॉर्म के माध्यम से निवेश करने में मूल अंतर यह है कि IPO एक बच्चे कि तरह है और लो प्राइस स्टॉक एक बड़े लड़के की तरह है। IPO का अर्थ होता है प्रारंभिक सार्वजनिक पेशकश। यह पहला चरण है जब कोई कम्पनी अपनी कम्पनी के शेयर जनता को देती है।

• प्रक्रिया महंगी हो सकती है।
• इक्विटी में सावधानी के लिए ध्यान दें।
• प्रबंधन नियंत्रण की हानि होती है।
• इसमें नियामक स्थिति बढ़ी हुई होती है।
• इसमें रिपोर्टिंग आवश्यकताएँ बढ़ी हुई होती है।
• लएबल पोससिबिलिटी भी ज्यादा होती है।

IPO न्यूज

लेटेस्ट फाइनेंस न्यूज़ हिन्दी

 

« Back to Glossary Index