Arthgyani
होम > बाजार > शेयर बाजार > शेयर बाज़ार

शानदार बढ़त के साथ सप्ताह के पहले दिन घरेलू शेयर बाज़ार बंद हुआ

सेंसेक्स 530 अंक और निफ्टी 50 इंडेक्स 165 अंक की बढ़त पर बंद हुआ ।

शानदार बढ़त के साथ सप्ताह के पहले दिन घरेलू शेयर बाज़ार बंद हुआ। बीएसई सेंसेक्स 530 अंक या 1.31 फीसदी की तेजी के साथ 40,889 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं, निफ्टी 50 इंडेक्स ने 165 अंक या 1.38 फीसदी की बढ़त दर्ज़ कर 12,079 पर कारोबार ख़त्म किया। मिडकैप इंडेक्स ने एक फीसदी और स्मॉलकैप इंडेक्स ने तीन चौथाई फीसदी से अधिक की तेजी दर्ज की। सेंसेक्स ने नया शिखर स्तर हासिल किया। वहीं निफ्टी भी उच्चतम स्तरों के आसपास है। चौतरफा ख़रीदारी  ने कारोबारी सेंटिमेंट को मजबूत किया।

शेयर बाज़ार में रही रौनक

  • सेंसेक्स 530 अंक की तेजी के साथ 40,889 के स्तर पर बंद हुआ।
  • निफ्टी 50 इंडेक्स ने 165 अंक की बढ़त दर्ज कर 12,079 पर कारोबार खत्‍म किया।
  • मिडकैप इंडेक्स 1%  फीसदी और स्मॉलकैप इंडेक्स ने तीन चौथाई फीसदी तेजी दर्ज़ की। 
  • NSE पर 20 कंपनियों के शेयरों ने अपने 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर हासिल किया।
  • अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड डील साइन हो जाने की संभावना से बाज़ार में रौनक।
  • निफ्टी 50 इंडेक्स पर 44 शेयर हरे, जबकि महज छह शेयरों ने लाल निशान के साथ कारोबार का अंत किया।

उम्मीद है कि इस साल के अंत तक अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड डील साइन हो जाएगी। इसी उम्मीदों के चलते वैश्विक बाजारों में गर्मजोशी है और भारतीय बाजारों को भी नई ऊंचाई दे रही है। गौरतलब है दुनिया की दो सबसे बड़ी अर्थव्यवस्थाओं के बीच की इस ट्रेड वार का असर पूरी वैश्विक अर्थव्यवस्था पर देखने को मिल रहा है।

निफ्टी 50 इंडेक्स पर भारती एयरटेल के शेयर ने 8 फीसदी से अधिक की छलांग लगाई। इसके बाद भारती इंफ्राटेल, हिंडाल्को, टाटा स्टील, ग्रासिम , JSW स्टील, इंडसइंड बैंक , एक्सिस बैंक, टाइटन कंपनी और HDFC के शेयर 2.5 से 7.5 फीसदी तक बढ़त दर्ज़ की। इंडियाबुल्स हाउसिंग फाइनेंस ने 12 फीसदी की छलांग लगाई। रियल्टी इंडेक्स पर फिनिक्स एंटरप्राइसेज ने 7.5 फीसदी तक की तेजी दिखाई। फार्मा इंडेक्स पर सभी शेयरों में तेजी रही। मेटल इंडेक्स ने तीन फीसदी तक की छलांग लगाई।

सोमवार के सत्र के दौरान NSE पर 20 कंपनियों के शेयरों ने अपने 52 सप्ताह का उच्चतम स्तर हासिल किया। इसमें अडानी ग्रीन एनर्जी, भारती एयरेटल, केमबॉन्ड केमिकल्स, रैलिस इंडिया, उत्तम वैल्यू स्टील और विशेष इंफोटेकनिक्स शामिल रहे।
इसके उलट, अरविंद फैशन, बैंग ओवरसीज, डॉलर इंडस्ट्रीज, कल्याणी फोर्ज, किरी इंडस्ट्रीज, मोहंती इंडस्ट्रीज, राज रेयॉन, प्रीमियर, शारदा क्रॉपकेम, विजी फाइनेंस और विशाल फैब्रिक्स 62 कंपनियों के शेयर अपने 52-सप्ताह के न्यूनतम स्तर तक फिसले। निफ्टी 50 इंडेक्स पर 44 शेयर हरे, जबकि महज छह शेयरों ने लाल निशान के साथ कारोबार का अंत किया। 30 शेयरों वाले सेंसेक्स पर 28 शेयर चढ़े और सिर्फ दो ही शेयर लुढ़के। बीएसई पर 1,416 शेयर बढ़त के साथ बंद हुए और 1,085 शेयरों में नरमी देखने को मिली। इस साल 65 फीसदी तक टूटने वाले टाटा मोटर्स, वेदांता और यस बैंक को इंडेक्स से बाहर कर नेस्ले इंडिया, टाइटन और अल्ट्राटेक सीमेंट को शामिल किया जाएगा।