Arthgyani
होम > न्यूज > टेक्नोलॉजी > भारतीय दूरसंचार क्षेत्र

तीन साल में विश्व के शीर्ष 100 ब्रांड में शामिल होगा जियो

जियो का ब्रांड मूल्य 4.1 अरब डॉलर

भारत के शीर्ष धनकुबेर मुकेश अंबानी की दूरसंचार इकाई ‘जियो'(jio) तीन साल के अंदर विश्व के 100 सबसे मूल्यवान ब्रांडों में शामिल हो सकती है। संचार सेवा प्रदाता डब्ल्यूपीपी और बाजार अनुसंधान फर्म कंटार मिलवर्ड ब्राउन ने एक रिपोर्ट में यह बात कही गई है। ” शीर्ष 100 मूल्यवान वैश्विक ब्रांड 2019” रिपोर्ट में कहा कि अमेजन ताजा आकलन में एप्पल और गूगल को पछाड़ कर इस साल दुनिया का सबसे मूल्यवान ब्रांड बन गया है। अमेजन की ब्रांड वैल्यू (मूल्य) 315.505 अरब डॉलर रही। इस सूची में नए प्रवेश करने वालों में जीवन बीमा निगम (एलआईसी) और टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) भी शामिल है।

रिपोर्ट के मुताबिक, सूची में एलआईसी (20.314 अरब डॉलर) 68 वें पायदान और टीसीएस (14.282 अरब डॉलर) 97 वें स्थान पर है।जियो को पुरानी व्यवस्थाओं में बदलाव करने वाले 100 वैश्विक ब्रांडों में जगह दी गई है। मौजूदा समय में जियो का ब्रांड मूल्य 4.1 अरब डॉलर है। रिपोर्ट में कहा गया है कि जियो ने डेटा पर भारी छूट देकर भारतीय दूरसंचार क्षेत्र में व्यापक परिवर्तन किया और पुरानी व्यवस्था को बदलने का काम किया।

जियो की इसी पहल के चलते प्रतिस्पर्धी दूरसंचार कंपनियों को कीमत घटाने और विलय करने पर मजबूर होना पड़ा। इस रिपोर्ट मे कहा गया है कि जियो के इस कदम से न सिर्फ जियो के ग्राहकों को बल्कि दूसरे ग्राहकों को भी फायदा मिला है।रिपोर्ट में कहा गया है कि यदि जियो ‘मौजूदा वृद्धि दर से आगे बढ़ेगा तो तीन साल के अंदर शीर्ष 100 ब्रांड की श्रेणी में आ जाएगा।

बता दे कि दूरसंचार नियामक टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) द्वारा अगस्त माह के लिए प्रकाशित औसत 4जी डाउनलोड स्पीड के आंकड़ों में रिलायंस जियो एक बार फिर अपने सभी प्रतियोगियो से आगे रही है।बीते अगस्त महीने में जियो की औसत डाउनलोड स्पीड 21.3 एमबीपीएस रही जो जुलाई में 21 एमबीपीएस थी। इस साल के पहले 8 महीनों में जियो 4जी डाउनलोड स्पीड के मामले में शीर्ष स्थान पर रहा है। बता दें 2018 में भी रिलायंस जियो स्पीड के मामले में सबसे तेज 4जी ऑपरेटर था। 2018 के सभी 12 महीनों में जियो की 4जी औसत डाउनलोड स्पीड सबसे अधिक थी।