Arthgyani
होम > न्यूज > शेयर बाज़ार में लौटी खुशियां, रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचा सेंसेक्स

शेयर बाज़ार में लौटी खुशियां, रिकॉर्ड ऊंचाई पर पहुंचा सेंसेक्स

एक्सिस बैंकों ने बैंको के शेयर को किया लीड, यस बैंक ने भी किया कमबैक,

वैश्विक घटनाओं के प्रभाव से भारत का शेयर बाज़ार भी अछुता नहीं है| मगर आज का बदलाव शुभ संकेतों और उम्मीदों के साथ हुआ| अमेरिकी-चीन व्यापार करार को लेकर उम्मीद और ब्रिटेन के आम चुनाव में बोरिस जॉनसन के कंजर्वेटिव पार्टी की जीत के बीच आज शुक्रवार को बंबई शेयर बाजार (BSE) का सेंसेक्स 428 अंको की बढ़त के साथ बंद हुआ| वैश्विक बाजारों के जोरदार बढ़त का प्रभाव यहां भी निवेशकों को मिला|

एक्सिस बैंक के शेयर में आया उछाल

BSE का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 41,055.80 अंक के उच्चस्तर को छूने के बाद 428 अंक या 1.05% की बढ़त के साथ 41,009.71 अंक पर बंद हुआ| इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज(NSE) का निफ्टी 114.90 अंक और 0.96%  की बढ़त के साथ 12,086.70 अंक पर बंद हुआ| सेंसेक्स में आज Axis Bank का शेयर सबसे अधिक 4.21% चढ़ा| वेदांता में 3.75 प्रतिशत, एसबीआई में 3.39 प्रतिशत, मारुति में 3.20 प्रतिशत, इंडसइंड बैंक (Indusind Bank) में 3.07 प्रतिशत और Yes Bank में 2.87 प्रतिशत का लाभ रहा|

अगर नुकसान में रहे शेयरों की बात करें तो भारती एयरटेल का शेयर आज 1.98 प्रतिशत टूट गया| कोटक बैंक में 1.38 प्रतिशत, बजाज ऑटो  में 0.88 प्रतिशत, Asian Paints में 0.31 प्रतिशत, HDFC Bank में 0.05 प्रतिशत और हिंदुस्तान यूनिलीवर में 0.03 प्रतिशत का नुकसान हुआ|

PSU बैंक इंडेक्स में 4% की तेजी

सेक्टोरियल इंडेक्स पर नजर डालें, तो फर्मा के अतिरिक्त सभी सेक्टर्स हरे निशान पर बंद हुए| इनमें बैंक, ऑटो, फाइनेंस सर्विसेज, एफएमसीजी, मीडिया, मेटल, पीएसयू बैंक, प्राइवेट बैंक और रियल्टी सेक्टर्स शामिल हैं| सेंसेक्स के 30 में से 24 और निफ्टी के 50 में से 38 शेयर बढ़त के साथ बंद हुए| NSE पर 11 में से 10 सेक्टर इंडेक्स फायदे में रहे| पीएसयू बैंक इंडेक्स में सबसे ज्यादा 4.03 तेजी आई|

बढ़त के साथ खुला था बाजार

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 125.26 अंक यानी 0.31 फीसदी की बढ़त के बाद 40,537.83 के स्तर पर खुला था| वहीं निफ्टी 38.75 अंक यानी 0.33 फीसदी की बढ़त के बाद 11,948.90 के स्तर पर खुला था|

अमेरिका-चीन में हुई डील!

अमेरिकी मीडिया के मुताबिक अमेरिका-चीन के बीच पहले चरण की ट्रेड डील पर सहमति बन गई है| विशषज्ञों ने शेयर बाज़ार में आए तेज़ी पर कहा कि अमेरिका-चीन व्यापार करार के पहले चरण के पूरा होने की खबरों तथा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री जॉनसन की आम चुनाव में जीत से निवेशक उत्साहित हैं| ट्रंप प्रशासन और चीन एक छोटे व्यापार करार को अंतिम रूप देने की प्रक्रिया में हैं जिससे रविवार से लगने वाले शुल्क स्थगित हो जाएंगे| इससे दोनों देशों के बीच 17 माह से जारी व्यापार युद्ध कुछ शांत हो जाएगा|

अमेरिका-चीन व्यापार करार की खबरों के बाद भारतीय शेयर बाजारों ने बृहस्पतिवार को आए ऊंची मुद्रास्फीति तथा औद्योगिक उत्पादन में गिरावट के आंकड़ों को नजरअंदाज किया और सकारात्मक रुख के साथ बंद हुए| विदित हो की नवंबर में खुदरा मुद्रास्फीति बढ़कर 5.54 प्रतिशत पर पहुंच गया है जो इसका तीन साल का उच्चस्तर है| इसी तरह अक्टूबर में औद्योगिक उत्पादन में 3.8 प्रतिशत की गिरावट आई| यह लगातार तीसरा महीना है जबकि औद्योगिक उत्पादन नीचे आया है|

एशिया के अन्य बाज़ारों में चीन का शंघाई, हांगकांग का हैंगसेंग, दक्षिण कोरिया का कॉस्पी और जापान का निक्की 2.57 प्रतिशत की बढ़त के साथ बंद हुए| इस बीच, अंतर बैंक विदेशी विनिमय बाजार में दिन में कारोबार के दौरान रुपया पांच पैसे की बढ़त के साथ 70.78 प्रति डॉलर पर चल रहा था|

सोमवार को शेयर बाज़ार किस रुख जाएगा यह अमेरिका-चीन के डील की फाइनल होने पर ही ज्ञात होगा| फिलहाल डील हो जाने के अफवाह मात्र से वैश्विक शेयर बाज़ार खुश है|