Arthgyani
होम > न्यूज > सरकार की इस स्कीम का उठाएं फायदा बंद होने से पहले

सरकार की इस स्कीम का उठाएं फायदा बंद होने से पहले

ये सरकारी योजना 15 जनवरी 2020 से बंद होने वाली है।

भारत में  कई लाभकारी सरकारी योजनाएं चल रही हैं, जिनसे बहुत लोगों को फायदा  हो रहा है ।  लेकिन कुछ महत्वपूर्ण योजनायें ऐसी भी हैं जो जल्द ही बंद होने वाली हैं।
ऐसे ही योजनाओं में एक सरकारी योजना है ‘सबका विश्वास स्कीम’ जो  15 जनवरी 2020 से बंद होने वाली है। ज्ञात हो कि पहले इसकी अंतिम तिथि 31 दिसंबर 2019 रखी गयी थी। लेकिन बाद में इसकी अंतिम तारीख 15 जनवरी तक बढ़ा दी गई। आप भी इस सरकारी योजना का लाभ उठाना चाहते हैं, तो 15 जनवरी से पहले ही पंजीकरण करवा लें ताकि आप चूक न जाएँ।  

क्या है ये  पूरी योजना – सबका विश्वास स्कीम 

वित्त वर्ष 2019-20 के आम बजट में सबका विश्वास स्कीम की शुरुआत की गई थी। वित्त मंत्रालय ने अप्रत्यक्ष करों के लंबित विवादों निपटारा करने के लिए यह बनाई है, जिसमें करदाताओं को बकाया राजस्व भुगतान के लिए आसान मौके दिए जा रहे हैं। इसलिए अगर आप भी सर्विस टैक्स या एक्साइज ड्यूटी संबंधित विवाद से जुड़े हैं, तो यह योजना आपके लिए लाभदायक साबित हो सकती है।

करदाता की पहचान को रखा जायेगा गुप्त

योजना की सबसे खास बात यह है कि इसमें संपत्ति या बकाए राजस्व की घोषणा करने वाले करदाता की पहचान पूरी तरह गुप्त रखी जाएगी। करदाता की ओर से की जाने वाली सभी कार्यवाही, देय राशि का भुगतान और विभाग के साथ संपर्क आदि पूरी तरह ऑनलाइन होंगे जिससे उत्पीड़न या शिकायत की आशंका नहीं रहेगी। योजना के तहत आवेदन काफी सरल है और इसे www.cbis-gst.gov.in  पर लॉगिंन कर भरा जा सकता है। इस घोषणा पर विभाग के उच्च स्तर के अधिकारी विचार करते हैं, जिसमें सहायक आयुक्त या उसके ऊपर के अधिकारी शामिल होते हैं।

योजना के माध्यम से खुलासा करने वाले करदाता के मामले का निपटारा चार महीने मे हो जाएगा और उसे विमुक्ति प्रमाण पत्र जारी कर दिया जाएगा। योजना का लाभ उठाने वाले व्यापारी और उद्योग जगत को महज 30 फीसदी भुगतान से ही दंड, ब्याज और मुकदमेबाजी से छुटकारा मिल सकता है। सबसे ज्यादा लाभ उन छोटे कारोबारियों को मिलेगा जिनकी कम राशि मुकदमेबाजी में फंसी है, क्योंकि उनका अदालती खर्च ही 30 फीसदी कर से ज्यादा होगा। विभाग ज्यादा से ज्यादा लोगों तक इस योजना की जानकारी पहुंचा रहा है।