Arthgyani
होम > बाजार > धनतेरस खरीदी

धनतेरस एलर्ट: स्वर्ण के हलके आभूषणों पर 15-25% की छूट

हलके आभूषण मेकिंग पर 15-25 फीसदी छूट मिलेगी

दीपावली अब दूर नहीं, दिन पर दिन त्यौहार की चकाचौंध बढ़ती जा रही हैं| लोग काफी उत्साह के साथ खरीदी में लगे हुए  हैं| यह एक ऐसा पर्व जिसमें खरीदी को लेकर अमीरी-गरीबी की कोई सीमा नहीं है| हर व्यक्ति अपनी सहूलियत के हिसाब से प्रियजनों के लिए खरीदी करता है| खासकर पौराणिक समय से चली आ रही भारतीय परम्परा में धनतेरस का दिन खरीदी के लिए काफी शुभ मन जाता है| धनतेरस के पुष्य नक्षत्र के शुभ अवसर पर सबसे ज्यादा सोने-चांदी और हीरे के आभूषणों की बिक्री होती है|इस दिन सोने-चांदी व सिक्कों को खरीदना शुभ माना जाता है|

बता दें, नभाटा द्वारा कारोबारी से की गई पूछताछ के मुताबिक़ जयपुर के आभूषण कारोबारी सुशील मेघराज ने बताया कि हर साल की तरह इस बार भी धनतेरस से इस शहर का सर्राफा बाजार सज चुका है| ग्राहकों का इंतजार किया जा रहा है। इस साल सोने-चांदी के भाव काफी ऊंचे हैं, इसलिए ग्राहकों के बजट को ध्यान में रखते हुए हल्के आभूषणों की खास तैयारी की गई है| जिनके मेकिंग पर 15-25 फीसदी तक की छूट दी गई है|

GJTIC के मुताबिक़ सिक्कों की ज्यादा बिक्री की उम्मीद

जेम ऐंड जूलरी ट्रेड काउंसिल ऑफ इंडिया (GJTIC) के प्रेजिडेंट शांति भाई पटेल ने यह भी बताया कि इस बार हल्के आभूषणों के साथ-साथ सोने और चांदी के सिक्कों की बिक्री ज्यादा होने की उम्मीद है।  हालांकि, हाल के दिनों में अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोने-चांदी के  भाव टूटने के बाद घरेलू बाजार के महंगी धातुओं के दाम में काफी गिरावट आई है।

हलके आभूषणों के लिए आकर्षित डिजाइन

कोबारियों का कहना है कि सोने और चांदी के हल्के आभूषणों में कई आकर्षित डिजाइन के आभूषण तैयार किए गए हैं। जेम ऐंड जूलरी ट्रेड काउंसिल ऑफ इंडिया (GJTIC) के प्रेजिडेंट शांति भाई पटेल ने बताया कि ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए आभूषण कारोबारियों ने अहमदाबाद में सोने के आभूषणों की मेकिंग पर 50 फीसदी तक छूट की पेशकश की है। पिछले महीने सोने का भाव बाजार में 40,000 रुपये प्रति 10 ग्राम से ऊपर चला गया था, जबकि चांदी का भाव 50,000 रुपये प्रति किलो के अप था। कमोडिटी बाजार विश्लेषकों का मानना है कि गिरावट पर लिवाली जोर पकड़ेगी, जिससे धनतेरस पर देश के सर्राफा बाजार में खूब रौनक देखने को मिलेगी।