Arthgyani
होम > न्यूज > विकास और स्वास्थ्य

हर वर्ग विकास और स्वास्थ्य की प्राथमिकता पर है – बजट 2020

किसानों की हितों की रक्षा और विकास भी सरकार का परम कर्त्तव्य है।

संसद का बजट सत्र शुरू हो चुका है। आर्थिक समीक्षा के अपने अभिभाषण में आज राष्ट्रपति ने कहा हर वर्ग का विकास और स्वास्थ्य प्राथमिकता पर है और सरकार  इसके लिए सतत प्रयत्नशील है। उन्होंने संसद के दोनों के संयुक्त सत्र को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार बिना भेदभाव के अपने सभी कल्याणकारी योजनाओं का लाभ समाज के सभी वर्गों तक पहुंचा रही है।

सर्वांगीन विकास कार्य  

  1. सरकार द्वारा  बोड़ो जनजाति के विकास के लिए कार्य किये जा रहे हैं आदिवासियों के विकास को बढ़ावा दिया जाना और उन्हें मुख्य धारा में जोड़ना सरकार का लक्ष्य है।  किसी भी वर्ग के विकास के  लिए शिक्षा प्रमुख अवयव है इसलिए सरकार द्वारा उनके विकास और शिक्षा हेतू 400 एकलव्य मोडल आवासीय स्कूल खोला गया साथ ही आरक्षण को 10 वर्ष के लिए बढाया गया है।
  2.  भारत ने हमेशा  लोक हितों की बात और रक्षा की है। इसी के मद्देनज़र सरकार ने मुस्लिम धर्म को मानने वाले लोगों के लिए भी ध्यान रखा है और हज की प्रक्रिया को पूरी तरह डिजिटल की गयी जिससे उन्हें आसानी हो .सरकार के इस निर्णय  से  2 लाख 72 हज़ार भारतीय को लाभ पहुंचा है।  
  3. दिव्यांगों  को पीछे न रहना पड़े और उनका  जीवन भी पल पल प्रगातिशील रहे इसका भी सरकार ने बहुत ध्यान रखा है. उनके लिए आरक्षण में 70 प्रतिशत वृद्धि दी गयी है और उनकी सुविधा हेतू उन्हें यूनिक id दी गयी जिससे 25 हज़ार दिव्यांगों  को लाभ पहुंचा है।  
  4.  किसानों की हितों की रक्षा और विकास भी सरकार का परम कर्त्तव्य है ऐसा कथन है माननीय श्री कोविंद का।  उन्होंने थिरूवल्लूर के एक कथन को याद करते हुए कहा कि किसान धरा की तरह है और वो हमारे अन्नदाता हैं उनके लिए किसान एवं ग्रामीण स्थानों का विकास हमारी प्राथमिकता में शामिल हैं।  

         उनके विकास के लिए 8 करोड़ किसानोंके खाते में 43 लाख करोड़ रूपये सीधे भेजे गए हैं। सरकार किसानो को उनके लागत मूल्य का डेढ़ गुना क़ीमत देगी। सरकार के प्रयासों से आज शहद का निर्यात दोगुने से अधिक हुआ है, मछुआरों को आय बढ़ी है। फसल बीमा योजना आदि ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का लाभ 5.5 करोड़ किसानों तक पहुंचा और 57 करोड़ का भुगतान क्लेम किये गए।

स्वास्थ्य योजनायें 

  • राष्ट्रपति ने कहा बीते सत्र में और आने वाले सत्र में अर्थात बजट 2020 में भी विकास के साथ साथ स्वास्थ्य का भी विशेष ख्याल रखा जायेगा। 
  • जनता के स्वास्थ्य की रक्षा को ध्यान में रखते हुए आयुष्मान भारत योजना, फिट इंडिया योजना लागू की गयी। 
  • जन आरोग्य योजना में 75 लाख गरीब मुफ्त इलाज कर चुके हैं। 
  •  इस योजना के तहत 1000 से अधिक दवाओं के मूल्य को कम किया गया जिसका लाभ निम्न वर्ग के लोगों को मिला है। 
  •  22 नए AIMS खोले जाने का निर्णय लिया गया है जो निर्माणाधीन है। 
  •  नेशनल मेडिकल कमीशन के अधिन 75  नए मेडिकल कॉलेज खोले गए ।
  • मातृ सुरक्षा योजना के तहत  5000 करोड़ रूपये योजना के खातों में भेजे गए जो उनके स्वास्थ्य रक्षा में महत्वपूर्ण रहे
  • स्वास्थ्य योजनाओं के तहत 1 रूपये में नैपकिन दे रही सरकार

देखना होगा कि सरकार कल पेश होने वाले बजट में स्वास्थ्य और विकास पर कितना ध्यान रखती है और कितना बजट आवंटन करती हैविदित हो कि कल सुबह 11 बजे श्रीमती निर्मला सीतारमण संसद में  सत्र 2020 का बजट पेश करेंगी