Arthgyani
होम > न्यूज > रहें तैयार, आपके क्षेत्र के बिजली चोरी का आपको करना होगा भुगतान!

रहें तैयार, आपके क्षेत्र के बिजली चोरी का आपको करना होगा भुगतान!

बिजली वितरण क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रान्ति आने वाली है

सूत्रों से प्राप्त खबर को अगर सत्य माना जाए तो बिजली वितरण क्षेत्र में बहुत बड़ी क्रान्ति आने वाली है| ऐसे खबर जो बाहर निकल कर आ रही है उसके अनुसार सरकार ने इन क़दमों के लिए पहले ही मान्यता दे दी है और बस इसके अनुप्रयोग में लाने की तैयारी की जा रही है|

सरकार ने दिखाई हरी झंडी 

केंद्र सरकार का Discom (Distribution Company) पर लगभग 70,000 करोड़ रूपए बकाया है और केंद्र सरकार अन्य क्षेत्रों के बाद अब बिजली क्षेत्र की सेहत में भी सुधार करना चाहती है| इसी कड़ी में सरकार ने बिजली वितरण के बारे में कई नए कदम उठाने का निर्णय कर लिया है| बल्कि खबर बाहर आ रही है कि सरकार ने ऊर्जा मंत्रालय के प्रस्तावों को हरी झंडी भी दिखा दी है|

आपको करना होगा आपके क्षेत्र में बिजली चोरी का भुगतान 

सरकार की यह पूरी कवादत बिजली डिस्ट्रीब्यूशन कंपनियों के घाटों को कम करने के साथ, ईमानदार ग्राहकों को 24*7 बिजली प्रदान करने के उद्देश्य से कर रही है| ईमानदार इसलिए, क्योंकि जिस भी क्षेत्र में बिजली चोरी की मात्रा ज्यादा होगी उस क्षेत्र को अपने आप ही कम बिजली की सप्लाय होने लगेगी| अर्थात अब आपके क्षेत्र में बिजली चोरी न हो ये जिम्मिदारी आपकी भी होगी, अन्यथा आप भी इसके भुक्तभोगी हो सकते हैं|

ज्ञात हो कि जबसे वर्तमान सरकार का दूसरा कार्यकाल शुरू हुआ है वह बिजली क्षेत्र में सुधार के लिए पुरजोड़ कोशिश कर रही है| इसी क्रम में सरकार ने रिसर्च करके कुछ स्टेप्स के लिए ग्रीन सिग्नल दिया हुआ है, जिसमें से उपरोक्त भी एक कदम है|

बिजली बिल में लागू होगा डिमांड एंड सप्लाई फार्मूला 

Time of Day tariff – इस कदम के तहत आपका बिजली का बिल आपके बिजली के इस्तेमाल के समय के अनुसार कम या ज्यादा आएगा| अर्थात अगर आप अगर सुबह को एक घंटा टीवी देख रहे हैं, और दोपहर में एक घंटा टीवी देख रहें हैं, तो उसके लिए आपको अलग अलग दर से चार्ज किया जा सकता है| मतलब व्यस्त समय में बिजली का इस्तेमाल महंगा साबित हो सकता है| इसका सीधा अर्थ है कि यह अब डिमांड और सप्लाई के नियम पर कार्य करेगा|