Arthgyani
होम > म्यूच्यूअल फंड > ETF

ETF क्या है? एक्सचेंज ट्रेडेड फंड

भारत में ‘एक्सचेंज ट्रेडेड फंड’ 2001 में शुरू किया गया

म्यूचुअल फंड की तरह ही ETF भी निवेश करने का एक अच्छा जरिया है| ETF को का फुल फॉर्म ‘एक्सचेंज ट्रेडेड फंड’/ Exchange Traded Fund है| भारत में यह फंड 2001 में शुरू किया गया था| ETF फंडस सिर्फ स्टॉक मार्केट में ही कारोबार करते हैं| यह फंड निवेश के लिए काफी सस्ता है इसलिए बाजार में निवेशकों के बीच यह काफी लोकप्रिय माना जाता है। आइये जानते हैं ‘एक्सचेंज ट्रेडेड फंड’ क्या है?

ETF क्या है? 

ETF वो फंड है जो शेयर बाजार के सूचकांक (इंडेक्स) पर नज़र रखते हैं| इसलिए इन्हें ‘एक्सचेंज ट्रेडेड फंड’ कहते हैं| जिन निवेशकों को म्यूचुअल फंड और शेयर बाजार की जानकारी का अभाव होता है, या बाजार में निवेश के बाद होने वाले जोखिम का डर रहता है| ऐसी परिस्थिति में एक्सचेंज ट्रैडर्ड फण्ड (ETF) में निवेश करने का सबसे सही विकल्प है| ETF की इकाइयां पंजीकृत स्टॉक एक्सचेंज के ब्रोकर के ज़रिये खरीदी और बेची जाती हैं|यह दुसरे फंडों के मुकाबले अपने सदृश सूचकांक को मात देने की कोशिश नहीं करते, बल्कि अपने प्रदर्शन को दोहराते हैं| और बाजार में बने रहने की पूरी कोशिश करते हैं|

एक्सचेंज ट्रेडेड फंड के क्या है फंडे

एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) एक प्रकार का निवेश है जिसे स्टॉक एक्सचेंजों पर खरीदा और बेचा जाता है। एक्सचेंज ट्रेडेड फंड, म्यूचुअल फंड की तरह है, लेकिन म्यूचुअल फंड के विपरीत, ETF को ट्रेडिंग अवधि के दौरान किसी भी समय बेचा जा सकता है। विभिन्न प्रकार के एक्सचेंज ट्रेडेड फंड होते हैं।

इंडेक्स फंड्स (Index Fund)

मुख्य रूप से एक निष्क्रिय म्यूचुअल फंड है जो निवेशकों को एकल लेनदेन में प्रतिभूतियों का एक पूल खरीदने की अनुमति देता है। जिसका उद्देश्य शेयर बाजार सूचकांक (जैसे निफ्टी 50) के प्रदर्शन को ट्रैक करना है। भारत में कुछ लोकप्रिय इंडेक्स ETF फंड, HDFC इंडेक्स फंड-निफ्टी, आईडीएफसी निफ्टी फंड, आदि हैं।

गोल्ड ETF फंड्स (Gold Fund)

यह फंड सोने की कीमतों पर आधारित होते हैं| सोने में निवेश करें या बोलियन में इसका निर्णय लेने में सहायक होते हैं| गोल्ड एक्सचेंज ट्रेडेड फंड्स गोल्ड बुलियन परफॉर्मेंस को ट्रैक करते हैं। जब सोने की कीमत बढ़ती है, तो एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड का मूल्य भी बढ़ जाता है और जब सोने की कीमत डाउन होती है, तो ETF अपना मूल्य खो देता है। भारत में, रिलायंस ईटीएफ गोल्ड बीईएस अन्य ईटीएफ एक सूचीबद्ध एक्सचेंज ट्रेडेड फंड है। ये ऐसे म्युचुअल फंड हैं जो निवेशकों को सोने में एक्सचेंज-ट्रेडेड फंड के लिए जोखिम लेने की अनुमति देते हैं।

इस तरह ETF फंड्स में निवेश करना सबसे सुरक्षित है| क्यूँकि यह फंड शेयर बाजार के सूचकांक (इंडेक्स) पर नज़र रखते हैं| निवेशकों को कितना किवेश करना है, बाजार के किस शेयर में निवेश करना है इसकी सलाह देते हैं|