Arthgyani
होम > न्यूज > ‘लॉजिक्स इंडिया’

FIEO के आयात-निर्यात कारोबार को मिलेगा बढ़ावा

‘लॉजिक्स इंडिया’ के दूसरे संस्करण का सम्मेलन अगले सप्ताह आयोजित किया जायेगा

FIEO / Federation of Indian Export Organisations / फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन द्वारा देश के उत्पादों का निर्यात कारोबार किया जाता है। FIEO के इस निर्यात कारोबार को बढ़ावा देने के लिए वैश्विक लॉजिस्टिक की लागत कम करने पर जोर दिया जा रहा है। एजेंसी की खबर के मुताबिक FIEO के अधिकारी ने बताया कि, देश की अर्थव्यवस्था को 2030 तक 10 हजार अरब डालर के स्तर तक पहुँचाने के लिए लाजिस्टिक्स विभाग की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी। ‘लॉजिक्स इंडिया’ को बढ़ावा मिलने से व्यापारों को हर तरह की सुविधाएँ और विकास के अवसर मिलेंगें।

‘लॉजिक्स इंडिया’ सम्मेलन का आयोजन   

‘लॉजिक्स इंडिया’ के दूसरे संस्करण का सम्मेलन अगले सप्ताह आयोजित किया जायेगा। यह शिखर सम्मेलन 12 से 14 दिसंबर तक आयोजित रहेगा। FIEO ऑर्गेनाइजेशन ने बताया कि लाजिस्टिक्स क्षेत्र के महत्व और भारत में इस क्षेत्र में निवेश की संभावनओं को उजागर करने के लिए ‘लॉजिक्स इंडिया’ शिखर सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है।

300 से अधिक अंतरराष्ट्रीय और घरेलू लॉजिस्टिक्स कंपनियां शामिल – इस सम्मेलन में 300 से अधिक अंतरराष्ट्रीय और घरेलू लॉजिस्टिक्स कंपनियां भाग लेंगी। FIEO के महानिदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. अजय सहाय ने बताया कि, भारत परिवहन की गुणवत्ता और लॉजिस्टिक इंफ्रास्ट्रक्चर की गुणवत्ता में प्रगति हो रही है। इसके साथ नियामक प्रक्रियाओं की दक्षता, माल के आयत-निर्यात की सुरक्षा, प्रतिस्पर्धी कीमतों पर लॉजिस्टिक सुविधा, सेवाओं की गुणवत्ता आदि चीजों में तेजी से प्रगति हो रही है। इसके साथ ही पर्याप्त निजी निवेश की मदद से एक मजबूत लॉजिस्टिक की बुनियादी संरचना जरूरी है।

FIEO के अध्यक्ष शरद कुमार सराफ ने बताया कि फेडरेशन ऑफ इंडियन एक्सपोर्ट ऑर्गेनाइजेशन (FIEO) के द्वारा भारत के लिए कुशल लॉजिस्टिक इको-सिस्टम बनाने का प्रयास चल रहे हैं।