Arthgyani
होम > न्यूज > National Recruitment Agency : अब सरकारी नौकरी के लिए देनी होगी केवल एक परीक्षा, 3 करोड़ युवाओं को मिलेगा सीधा लाभ

National Recruitment Agency : अब सरकारी नौकरी के लिए देनी होगी केवल एक परीक्षा, 3 करोड़ युवाओं को मिलेगा सीधा लाभ

केंद्र सरकार ने 'एक देश एक परीक्षा' यानी 'One Nation One Examination' की नीति के चलते 'राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी' यानी 'National Recruitment Agency' का गठन करने की घोषणा की है। जिसके चलते अब देश के युवाओं को केवल एक ही परीक्षा देनी होगी।

देश की शिक्षा व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिए केंद्र की मोदी सरकार लगातार बड़े कदम उठा रही है। नई शिक्षा नीति लागू करने के बाद अब केंद्र सरकार ने देश के युवाओं को सरकारी नौकरी देने के लिए बेहद अहम कदम उठाया है। देश में कई तरह की सरकारी नौकरियां हैं, जिनके लिए युवाओं को अलग-अलग परीक्षा देनी होती थी। लेकिन, अब केंद्र सरकार ने ‘एक देश एक परीक्षा’ यानी ‘One Nation One Examination’ की नीति के चलते ‘राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी’ यानी ‘National Recruitment Agency’ का गठन करने की घोषणा की है। जिसके चलते अब देश के युवाओं को केवल एक ही परीक्षा देनी होगी। केंद्र सरकार के इस फैसले से देश में नौकरी की तलाश कर रहे लाखों युवाओं को मदद मिलेगी।

सरकार ने ‘National Recruitment Agency’ के गठन के लिए 1517.57 करोड़ रुपए की स्वीकृति दी है।

जानें कैसे काम करेगी ‘National Recruitment Agency’

वर्तमान में सरकारी नौकरियों की भर्ती के लिए 20 से अधिक एजेंसियां काम कर रही हैं। जिसमें प्रमुख हैं संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) स्टाफ सिलेक्शन कमीशन (SSC), रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) और बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान (IBPS) कुछ प्रमुख हैं। ऐसे में ‘National Recruitment Agency’ केंद्रीय स्तर पर मौजूद सभी सरकारी नौकरियों की नियुक्ति के लिए एक नोडल एजेंसी के तौर पर काम करेगी। जो ‘Group B’ और ‘Group C’ के गैर तकनीकी पदों के लिए कैंडिडेट की स्क्रीनिंग के लिए ‘Common Eligibility Test’ करवाएगी।

‘National Recruitment Agency’ केंद्रीय स्तर पर मौजूद सभी सरकारी नौकरियों की नियुक्ति के लिए एक नोडल एजेंसी के तौर पर काम करेगी।

पूरी तरह से ऑनलाइन परिक्षा लेगी ‘National Recruitment Agency’

‘National Recruitment Agency’ साल में दो बार ऑनलाइन ‘Common Eligibility Test’ आयोजित करेगी। कैंडिडेट का रजिस्ट्रेशन, रोल नंबर, एडमिट कार्ड, मार्कसीट आदि सेवाएं सबकुछ ऑनलाइन मोड में संचालित होंगी। इसके अलावा CET हिन्दी, अंग्रेजी के अलावा 12 भारतीय भाषाओं में परीक्षा आयोजित की जाएगी।

‘Common Eligibility Test’ हिन्दी, अंग्रेजी के अलावा 12 भारतीय भाषाओं में परीक्षा आयोजित की जाएगी।

3 साल तक मान्य रहेगा ‘Common Eligibility Test’

केंद्र सरकार के मुताबिक ‘Common Eligibility Test’ तीन साल की समय सीमा तक मान्य रहेगा। इस समय सीमा में क्वालिफाई करने वाले कैंडिडेट सरकार के अलग-अलग विभागों में अपनी प्राथमिकता और कुशलता के आधार पर अप्लाई कर सकते हैं।

‘National Recruitment Agency’ के तहत देश भर में बनाए जाएंगे 1000 से ज्यादा परीक्षा केंद्र।

‘National Recruitment Agency’ से 3 करोड़ युवाओं को होगा फायदा

केंद्र सरकार के मुताबिक हर साल सरकारी नौकरियों की परीक्षा में बैठने वाले 3 करोड़ युवाओं को बड़ी राहत मिलेगी। साथ ही ‘National Recruitment Agency’ के तहत देश भर में 1000 से ज्यादा परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे। जिससे कैंडिडेट्स को अलग-अलग परिक्षा फार्म की फीस नहीं देनी पड़ेगी, ना ही परीक्षा देने दूर जाना पड़ेगा।