Arthgyani
होम > न्यूज > सरसों और ग्वार में दिखी नरमी, धनिया की कीमत में हुआ इजाफा

सरसों और ग्वार में दिखी नरमी, धनिया की कीमत में हुआ इजाफा

धनिया की कीमत 11 रुपये की तेजी के साथ 6,270 रुपये प्रति क्विन्टल हो गयी।

धनिया की वायदा कीमतों में सोमवार को तेजी रही। उत्पादक क्षेत्रों से सीमित आपूर्ति और हाजिर मांग बढ़ने से कीमतों को सपोर्ट मिला। धनिया की कीमत 11 रुपये की तेजी के साथ 6,270 रुपये प्रति क्विन्टल हो गयी। एनसीडीईएक्स में धनिया के अप्रैल माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 11 रुपये अथवा 0.18 फीसदी की तेजी के साथ 6,270 रुपये प्रति क्विन्टल बोली गईं। इस दौरान इसमें 7,160 लॉट के लिए कारोबार हुआ।

इसी प्रकार, धनिया के मई माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 36 रुपये अथवा 0.57 फीसदी की तेजी के साथ 6,300 रुपये प्रति क्विन्टल हो गई। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि हाजिर बाजार में मजबूती के रुख तथा उत्पादक क्षेत्रों से सीमित आपूर्ति के कारण मुख्यत: यहां धनिया वायदा कीमत में तेजी आई।

सरसों भी लुढ़की

ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक वायदा कारोबार में सोमवार को सरसों दाना की कीमत 13 रुपये के नुकसान के साथ 3,970 रुपये प्रति क्विन्टल रह गयी। एनसीडीईएक्स में सरसों के फरवरी माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 13 रुपये या 0.33 फीसदी की गिरावट के साथ 3,970 रुपये प्रति क्विन्टल रह गयी।

सरसों के अप्रैल माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत सात रुपये अथवा 0.17 फीसदी की कमजोरी के साथ 4,038 रुपये प्रति क्विन्टल रह गयी जिसमें 18,630 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार सूत्रों ने कहा कि हाजिर बाजार में कमजोरी के रुख के बाद कारोबारियों द्वारा अपने सौदे काटने से वायदा कारोबार में सरसों कीमतों में गिरावट दर्ज हुई।

ग्वार में भी दिखी नरमी

हाजिर बाजार की कमजोर मांग से कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को कम किया जिससे वायदा कारोबार में सोमवार को ग्वारसीड की कीमत छह रुपये की गिरावट के साथ 3,820 रुपये प्रति 10 क्विन्टल रह गयी। बाजार सूत्रों ने कहा कि उत्पादक क्षेत्रों से आपूर्ति बढ़ने के कारण ग्वारसीड वायदा कीमतों में गिरावट दर्ज हुई।
एनसीडीईएक्स में ग्वारसीड के फरवरी माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत छह रुपये अथवा 0.16 फीसदी की गिरावट के साथ 3,820 रुपये प्रति 10 क्विन्टल रह गयी जिसमें 1,080 लॉट के लिए कारोबार हुआ। इसी प्रकार, ग्वारसीड के मार्च, माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 10 रुपये अथवा 0.26 फीसदी की नरमी के साथ 3,854 रुपये प्रति 10 क्विन्टल रह गयी जिसमें 72,815 लॉट के लिए कारोबार हुआ।