Arthgyani
होम > बाजार > शेयर बाजार > इस सप्ताह चार दिन ही खुला रहेगा शेयर बाज़ार, जानें कैसा रहेगा हाल

इस सप्ताह चार दिन ही खुला रहेगा शेयर बाज़ार, जानें कैसा रहेगा हाल

पिछला हफ्ता भारतीय शेयर बाज़ार के लिए बहुत उठा-पटक भरा हुआ रहा था

कल से शुरू हो रहे कारोबारी सप्ताह में शेयर बाज़ार के लिए बहुत महत्वपूर्ण रहने वाला है|आगामी हफ्ते में भारतीय शेयर बाज़ार शिवरात्री की वजह से एक दिन कम भी खुला रहेगा, अर्थात चार कारोबारी दिन का ही होगा आगामी सप्ताह| ज्ञात हो कि इस शुक्रवार यानी 21 फरवरी 2020 को शिवरात्रि के लिए सार्वजनिक छुट्टी होने की वजह से शेयर बाज़ार नहीं खुलेगा|

मगर इंडियन शेयर मार्केट के लिए आगामी हफ्ते में सिर्फ एक दिन के कम कारोबारी दिवस के वजह से ही परेशानी भरे नहीं रहने वाले हैं, जबकि अन्य कई कारण भी हैं, जो आगामी हफ़्ते में शेयर बाज़ार को प्रभावित करेंगे|

7 कारण जो आगामी हफ्ते में भारतीय शेयर बाज़ार को प्रभावित कर सकते हैं:

  1. AGR और स्पेक्ट्रम मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट और केंद्र सरकार की सख्ती की वजह से भारती एयरटेल समेत वोडाफोन-आइडिया के शेयरों में बहुर गतिविधि रहने वाली है| ज्ञात हो कि शुक्रवार को भारती एयरटेल के शेयरों ने अच्छी बढ़त बनाई थी| वहीं Vodafone-Idea ने भारतीय बाज़ार में रहने न रहने पर असमंजसता दिखाई है| तो उम्मीद है कि निवेशक जहां एयरटेल के शेयरों में निवेश करेंगे, वहीं Vodafone के निवेशक बिकवाली का रुख अपना सकते हैं|
  2. अर्थव्यवस्था के घरेलू मोर्चे पर इस सप्ताह कोई बड़ी गतिविधियों के अभाव में शेयर बाजार  में आगे की चाल वैश्विक रुझानों पर निर्भर करेगी|
  3. टेलिकॉम से संबंधित शेयरों को छोड़कर इस सप्ताह बाजार एक सीमित दायरे में ही कारोबार करेगा ऐसी उम्मीद है, मगर टेलिकॉम सेक्टर के शेयरों में गतिविधि रहेगी यह तय है|
  4. इस सप्ताह उम्मीद है कि छोटी अवधि में बाजार पर दबाव बना रहेगा|
  5. कोरोनावायरस से संबंधित घटनाक्रमों पर पैनी निगाह बनी रहेगी और ज्ञात हो कि वैश्विक बाजारों में अभी भी कोरोनावायरस का असर है और इस सप्ताह भी यह बना रह सकता है|
  6. इस सप्ताह फेडरल ओपेन मार्केट कमेटी (FOMC) की बैठक के ब्योरे पर सभी वैश्विक निवेशकों की नज़र होगी, जोकि इस गुरुवार को आने वाला है| इसका प्रभाव भारत में भी बाज़ारों पर जरुर पड़ेगा|
  7. पिछले हफ्ते तक लगभग सभी कंपनियों के तिमाही नतीजे आ चुके हैं, इस लिए आगामी हफ्ते में भारतीय शेयर बाज़ार  कंपनियों के तिमाही नतीजों के प्रभाव से बेपरवाह रहेगा|

ज्ञात हो कि भारतीय शेयर बाज़ार के लिए पिछला हफ्ता बहुत उठा-पटक भरा हुआ रहा था| जहां सप्ताह की शुरुआत गिरावट के साथ हुई थी, वहीं उसके आगामी दो दिन शेयर बाज़ार के लिए फायदेमंद रहे थे| मगर सप्ताह का अंत आते-आते शेयर बाज़ार धारासाई हो गया और सप्ताह के दो अंतिम कारोबारी दिनों में भारतीय शेयर बाज़ार के दोनों प्रमुख सूचकांक भारी नुकसान के साथ बंद हुए थे|