Arthgyani
होम > टैक्स (कर) > पोस्ट ऑफिस में फिक्स्ड डिपाजिट: सुरक्षित बचत का आसान तरीका

पोस्ट ऑफिस में फिक्स्ड डिपाजिट: सुरक्षित बचत का आसान तरीका

पोस्ट ऑफिस में फिक्स्ड डिपाजिट के फायदों को जान कर आप आश्चर्यचकित हो जाएंगे

आज के समय में पोस्ट ऑफिस सिर्फ चिट्ठियां पहुचाने का कार्य ही नहीं करता, आज यह बन चूका मल्टी वर्क प्लेस| पोस्ट के अलावे जो कार्य पोस्ट ऑफिस के अंदर होता है उनमें से एक महत्वपूर्ण कार्य है बैंकिंग कार्य| पोस्ट ऑफिस अपने बैंकिंग कार्यों में धन जमा लेने और निकासी की सुविधा देने के साथ-साथ सावधि जमा भी लेता है| पोस्ट ऑफिस की FD को time deposit स्कीम के नाम से भी जाना जाता है| आइए जानते हैं पोस्ट ऑफिस के फिक्स्ड डिपाजिट स्कीम बैंकों से अलग और बेहतर कैसे है:

रिटर्न की गारंटी

आज जिस प्रकार से कई भारतीय बैंक दिवालिया हुए हैं इससे ग्राहकों के मध्य बैंकों में जमा धन की सुरक्षा और वापसी को लेकर संसय का महौल है| क्योंकि कोई भी बैंक आपके सभी जमाओं सहित 1 लाख रूपए के वापसी की ही गारंटी देता है| इसी समय पोस्ट ऑफिस एकमात्र बैंकिंग कार्य कर रही संस्था है जहां पर आपके जमा धन के पूर्ण वापसी की गारंटी है| ऐसा यह इस लिए कर पाता है क्योंकि पोस्ट ऑफिस में डिपाजिट किए हुए धन का बहुतायत उपयोग सरकार द्वारा किया जाता है, जो की धन वापसी की गारंटी लेते हैं| वहीं बैंक धन लाभ कमाने के लिए आपके जमा धन को व्यापारियों आदि को लोन पर देते हैं| यहां पर रिस्क ज्यादा है| पोस्ट ऑफिस में कोई रिस्क नहीं है|

व्याज की गणना तिमाही

बैंकों में आपके जमा फिक्स्ड डिपाजिट पर व्याज की गणना सालाना होती है| वहीं पोस्ट ऑफिस में व्याज की गणना हर तीन महीने में होती है, जिससे आपका मूलधन हर तीन महीने बाद व्याज जुड़ने से बढ़ जाता है और अंततः रिटर्न के समय आपको बैंकों से ज्यादा लाभ मिलता है| पोस्ट ऑफिस के एक नए स्कीम के तहत आप अगर 4.5 लाख रूपए 5 सालों के लिए पोस्ट ऑफिस में जमा करते हैं तो अवधि पूर्ण होने पर आप 6.5 लाख रूपए प्राप्त करने के अधिकारी होंगे| यह किसी भी प्राइवेट या सरकारी बैंकों के मुकाबले सबसे ज्यादा रिटर्न है|

इनकम टैक्स में छूट की सुविधा

पोस्ट ऑफिस FD आकर्षक ब्याज दर के साथ ही इनकम टैक्स में छूट की सुविधा भी देती हैं| इसका मतलब है कि एक निवेशक वित्त वर्ष के दौरान पोस्ट ऑफिस में 1.50 लाख रुपए की सेविंग पर इनकम टैक्स में डिडक्शन हासिल कर सकते हैं| तो न सिर्फ अच्छा व्याज बल्कि टैक्स में भी छूट प्राप्त किए जा सकते हैं|

बैंकों से बेहतर व्याज दर

पोस्ट ऑफिस की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक, इसमें एक साल, दो साल, तीन साल और पांच साल के लिए अलग-अलग ब्याज दर ऑफर की जाती है, जो इस प्रकार हैं:

अवधिब्याज दर
1 साल6.90%
2 साल7.00%
3 साल7.20%
5 साल7.80%

उपरोक्त व्याज दर किसी भी प्राइवेट या सरकारी बैंक द्वारा प्रदान किए जाने वाले व्याज दर से तुलनात्मक रूप से अधिक हैं|

अकाउंट ट्रान्सफर की सुविधा

अगर आप शहर या जगह बदल रहे हों तो आप पोस्ट ऑफिस में कराए FD को जहां आप जा रहे हैं वहां के पोस्ट ऑफिस में ट्रांसफर भी करा सकते हैं| FD अकाउंट एक पोस्ट ऑफिस से दूसरे पोस्ट ऑफिस में बहुत आसानी से ट्रांसफर किया जा सकता है और इससे आपके अकाउंट में किसी भी तरह का कोई बदलाव नहीं होगा| अकाउंट ट्रान्सफर कराने के लिए बस एक सादे कागज़ पर निवेदन पत्र और तय डाक्यूमेंट्स पोस्ट ऑफिस में जमा करा देना है|

अकाउंट के टाइप और नॉमिनी बदलने की सुविधा

पोस्ट ऑफिस आपको अपने अकाउंट को सिंगल से जॉइंट अकाउंट और जॉइंट अकाउंट से सिंगल करने की छूट देता है| यह नियम FD में भी लागू है| साथ ही अगर आप अपने FD के नॉमिनी को बदलना चाहते हैं तो आप बहुत आसानी से यह कार्य कर सकते हैं| पोस्ट ऑफिस द्वारा प्रदान किए हुए फॉर्म को भर कर डाक्यूमेंट्स के साथ जमा कर दें| बहुत अल्प समय में यह कार्य हो जाएगा|

तो बिना किसी हिचक के आज ही पोस्ट ऑफिस में एक फिक्स्ड डिपाजिट कराएं और ज्यादा लाभ के साथ सुरक्षित धन पाएं|